Breaking News

गुरुवार, 18 मार्च 2021

जालौन: डाक्टरों के कक्ष में लगेगी टीबी इलाज संबंधी प्रचार सामग्री

जालौन: डाक्टरों के कक्ष में लगेगी टीबी इलाज संबंधी प्रचार सामग्री

मेडिकल कालेज में टीबी कोर कमेटी की बैठक में लिए गए महत्वपूर्ण निर्णय

जालौन 18 मार्च 2021 : राष्ट्रीय क्षय रोग उन्मूलन कार्यक्रम के अंतर्गत राजकीय मेडिकल कालेज में कोर कमेटी की बैठक का आयोजन मेडिकल कालेज के मुख्य चिकित्सा अधीक्षक डा. आरके सिंह की अध्यक्षता में किया गया। इसमें तय किया गया कि मेडिकल कालेज परिसर में सभी विभागाध्यक्षों और चिकित्सा अधिकारियों के कक्ष में टीबी संबंधी प्रचार प्रसार सामग्री लगाई जाएगी और सभी कक्षों में उपचार संबंधी चार्ट भी लगाए जाएंगे।


जिला क्षय रोग अधिकारी डा. सुग्रीवबाबू ने कहा कि कोरोना काल में मेडिकल कालेज में क्षय रोगियों की जांच और उपचार में गिरावट  आई है। अब इसे दूर करने का प्रयास किया जाए। मेडिकल कालेज में एक्स्ट्रा पलोमोनरी के केस कम मिल रहे है। इसके लिए जांच का दायरा बढ़ाने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि जो एमडीआर (मल्ट्री ड्रग रजिस्टेंस) के मरीज है, उन मरीजों को फिलहाल भर्ती कराकर इलाज की सुविधा नहीं मिल पा रही है, ऐसे मरीजों को ओपीडी में ही इलाज की सुविधा दी जाए।  

उन्होंने कहा कि टीबी संंबंधी किसी भी संभावित मरीज की जांच के बाद उसके तत्काल इलाज की व्यवस्था सुनिश्चित कराई जाए। उन्होंने कहा कि मेडिकल कालेज के मुख्य चिकित्सा अधीक्षक डा आरके सिंह ने कहा कि टीबी रोगियों की खोज के लिए वे सभी विभागाध्यक्षों और चिकित्सा अधिकारियों को पत्र जारी करेंगे ताकि टीबी रोगियों को ज्यादा से ज्यादा चिह्नीकरण किया जा सके। बैठक में मेडिकल कालेज में डीआरटीबी सेंटर को फिर से सक्रिय किए जाने पर चर्चा की गई। बैठक में नोडल अधिकारी डा. शैलेंद्र प्रताप, टीबी एवं चेस्ट स्पेशलिस्ट डा. संतोष कुमार ने टीबी मरीजों को बेहतर इलाज की व्यवस्था देने की बात कही। इस दौरान आलोक मिश्रा, नुरुल हुदा, अनुराग अग्रवाल, शशिकांत अवस्थी आदि मौजूद रहे।

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

Post Top Ad

Pages

close