Breaking News

गुरुवार, 18 मार्च 2021

आयुष्मान पखवाड़े में पहले नौ दिनों में बने ४५०० पात्रों के कार्ड : २४ मार्च तक जारी रहेगा पखवारा, सभी सीएससी में बनेंगे निशुल्क आयुष्मान कार्ड

आयुष्मान पखवाड़े में पहले नौ दिनों में बने ४५०० पात्रों के कार्ड : २४ मार्च तक जारी रहेगा पखवारा, सभी सीएससी में बनेंगे निशुल्क आयुष्मान कार्ड

जालौन १८ मार्च २०२१ : जिले में आयुष्मान कार्ड रहित प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना से आच्छादित ६२८४४ परिवार व मुख़्यमंत्री जन आरोग्य अभियान १०१६ परिवार को आयुष्मान कार्ड पहुंचाने के लक्ष्य के साथ १० मार्च से आयुष्मान पखवाड़ा की शुरुआत की गई थी। उसमें अब तक ४५०० लाभार्थियों को कार्ड जारी किये जा चुके हैं। यह जानकारी देते हुए योजना के जिला कार्यक्रम समन्वयक डॉ आशीष कुमार झा ने बताया कि १० मार्च को १६५, ११ मार्च को २१४, १२ मार्च को ३२३, १३ मार्च को ८८०, १४ मार्च को ६६५, १५ मार्च को ६५८, १६ मार्च को ४६१, व् १७ मार्च को ७०८ आयुष्मान कार्ड जनपद में जारी किये जा चुके हैं। उन्होंने बताया कि जिलाधिकारी के निर्देशानुसार जनपद में बचे हुए ६३ प्रतिशत आयुष्मान कार्ड विहीन परिवारों को लक्षित करते हुए आयुष्मान पखवाड़ा आयोजित करते हुए सघन अभियान चलाया जा रहा है, जिसमें लक्षित परिवारों को योजना के प्रति जागरूक करते हुए आयुष्मान कार्ड कैंप तक लाने एवं उनका आयुष्मान कार्ड बनवाने का हरसंभव प्रयास किया जा रहा है।


जन सेवा केंद्रों (कॉमन सर्विस सेंटर) पर निशुल्क बनाया जा रहा है आयुष्मान कार्ड राष्ट्रिय स्वास्थ्य प्राधिकरण  और जन सुविधा केंद्र के बीच हुए करार के बाद अब यूपी  समेत देश के अन्य १० राज्यों में आयुष्मान कार्ड निशुल्क बनाया जा रहा है। आयुष्मान भारत प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना के तहत लाभार्थियों को पीवीसी  (पोलिविनाइल क्लोराइड) आयुष्मान कार्ड लाभार्थियों को निशुल्क दिए जाएंगे। पहले आयुष्मान कार्ड बनवाने के लिए सीएससी पर ३० रुपए देने होते थे। नेशनल हेल्थ ऑथोरिटी तथा सीएससी ई गर्वेंनेंस द्वारा आपसी सहमति के बाद हुए करार के बाद लाभार्थियों के लिए पीवीसी आयुष्मान कार्ड निशुल्क बनाया जाना है। इस नई व्यवस्था के तहत आयुष्मान भारत के लाभार्थियों को पहले पेपर आधारित कार्ड दिया जायेगा। फिर इसके बाद एक पीवीसी प्रिंट किया हुआ कार्ड दिया जायेगा। पीवीसी आयुष्मान कार्ड किसी भी सीएससी से प्राप्त किया जा सकेगा। इस योजना के तहत सालाना प्रति परिवार प्रति ५ लाख रुपये का इलाज की सुविधा दी गई है। आयुष्मान भारत योजना के लाभार्थियों को स्वास्थ्य सेवा प्राप्त करने के लिए कैश या पेपर आदि नहीं होने के बावजूद सुविधाएं मुहैया की जाती है। इस योजना के तहत अभी ९३७ हेल्थ पैकेज हैं। योजना के तहत देश के ३२ प्रदेशों के २४००० से अधिक सरकारी व गैरसरकारी अस्पतालों को सूचीबद्ध किया गया है। जनपद जालौन के भी १० राजकीय और चार  निजी चिकित्सालय योजनान्तर्गत पंजीकृत है।

आयुष्मान पखवाड़े के दौरान अब तक बनाये गए आयुषमान कार्ड की स्थिति
१० मार्च को १६५
११ मार्च को २१४
१२ मार्च को ३२३
१३ मार्च को ८८०१४ मार्च को ६६५
१५ मार्च को ६५८
१६ मार्च को ४६१
१७ मार्च को ७०८

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

Post Top Ad

Pages

close