Breaking News

बुधवार, 14 अक्तूबर 2020

कोविड-19 के मामलों में उत्तर प्रदेश का रिकवरी रेट 90 प्रतिशत से अधिक हुआ -मुख्यमंत्री योगी

कोविड-19 के मामलों में उत्तर प्रदेश का रिकवरी रेट 90 प्रतिशत से अधिक हुआ -मुख्यमंत्री योगी
उ0प्र0 कोविड-19 के मामलों में प्रदेश का रिकवरी रेट 90 प्रतिशत से अधिक हुआ -मुख्यमंत्री 

कोविड-19 से बचाव और उपचार के प्रबन्धों को प्रभावी ढंग से लागू रखने के निर्देश शासन स्तर पर स्वास्थ्य विभाग के वरिष्ठ अधिकारी जनपद लखनऊ , वाराणसी , मेरठ व मथुरा के जिला प्रशासन तथा स्वास्थ्य विभाग के वरिष्ठ अधिकारियों से नियमित संवाद स्थापित करते हुए कोविड-19 के नियंत्रण के सम्बन्ध में उनका मार्गदर्शन करें कोविड -19 को नियंत्रित करने के उद्देश्य से अधिक से अधिक कॉन्टैक्ट ट्रेसिंग की जाए एस0जी0पी0जी0आई0, के0जी0एम0यू0 तथा आर0एम0एल0आई0एम0एस0 में आई0सी0यू0 के बेड्स की संख्या बढ़ाने के निर्देश एम ० एस ० पी ० के तहत स्थापित किए गए धान क्रय केन्द्रों को पूरी सक्रियता से संचालित करते किसानों की अधिक से अधिक उपज की खरीद की जाए धान बेचने वाले सभी किसानों के खाते में 72 घण्टे के अन्दर भुगतान की धनराशि अन्तरित कर दी जाए सब्जी व दालों के दाम को नियंत्रित करने के लिए सभी जिलाधिकारी अपने-अपने जनपदों में प्रभावी कार्यवाही करें |

लखनऊ : 14 अक्टूबर, 2020 

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने कहा है कि कोविड-19 के मामलों में प्रदेश का रिकवरी रेट 90 प्रतिशत से अधिक हो गया है । उन्होंने कोविड -19 से बचाव और उपचार के प्रबन्धों को प्रभावी ढंग से लागू रखने के निर्देश दिए हैं । मुख्यमंत्री जी आज यहां लोक भवन में आहूत एक उच्चस्तरीय बैठक में अनलॉक व्यवस्था की समीक्षा कर रहे थे । उन्होंने निर्देश दिए कि शासन स्तर पर स्वास्थ्य विभाग के वरिष्ठ अधिकारी जनपद लखनऊ , वाराणसी , मेरठ व मथुरा के जिला प्रशासन तथा स्वास्थ्य विभाग के वरिष्ठ अधिकारियों से नियमित संवाद स्थापित करते हुए कोविड -19 के नियंत्रण के सम्बन्ध में उनका मार्गदर्शन करें । उन्होंने कहा कि कोविड -19 को नियंत्रित करने के उद्देश्य से अधिक से अधिक कॉन्टैक्ट ट्रेसिंग की जाए । इसके लिए सर्विलांस टीम पूरी सक्रियता से कार्य करे । उन्होंने एस0जी0पी0जी0आई0, के0जी0एम0यू0 तथा आर0एम0एल0आई0एम0एस0 में आई0सी0यू0 के बेड्स की संख्या बढ़ाने के निर्देश दिए ।

मुख्यमंत्री जी ने कहा कि जब तक कोरोना का वैक्सीन नहीं आता , तब तक कोई ढिलाई न बरती जाए । इस मूल मंत्र के तहत ही भविष्य में भी कोरोना से जंग जारी रहेगी । कोरोना मरीजों की सुविधा के लिए एम्बुलेंस सेवा सक्रियता से कार्य करे । उन्होंने कहा कि 15 अक्टूबर , 2020 को वर्ल्ड हैण्ड वॉश डे है । इसका व्यापक प्रचार - प्रसार सुनिश्चित किया जाए । उन्होंने कहा कि प्रवर्तन की कार्यवाही में पुलिस मास्क , ग्लव्स व सेनिटाइजर का प्रयोग अवश्य करे , ताकि संक्रमण से बचाव हो सके । मुख्यमंत्री जी ने कहा कि मूल्य समर्थन योजना (एम0एस0पी0) के तहत स्थापित किए गए धान क्रय केन्द्रों को पूरी सक्रियता से संचालित करते हुए किसानों की अधिक से अधिक उपज की खरीद की जाए । किसानों को सभी सहूलियतें उपलब्ध कराने के निर्देश देते हुए उन्होंने कहा कि धान बेचने वाले सभी किसानों के खाते में 72 घण्टे के अन्दर भुगतान की धनराशि अन्तरित कर दी जाए । उन्होंने कहा कि सब्जी व दालों के दाम को नियंत्रित करने के लिए सभी जिलाधिकारी अपने - अपने जनपदों में प्रभावी कार्यवाही करें । इस अवसर पर चिकित्सा शिक्षा मंत्री श्री सुरेश खन्ना , स्वास्थ्य मंत्री श्री जय प्रताप सिंह , स्वास्थ्य राज्य मंत्री श्री अतुल गर्ग , मुख्य सचिव श्री आर 0 के 0 तिवारी , अवस्थापना एवं औद्योगिक विकास आयुक्त श्री आलोक टण्डन , कृषि उत्पादन आयुक्त श्री आलोक सिन्हा , अपर मुख्य सचिव गृह श्री अवनीश कुमार अवस्थी , पुलिस महानिदेशक श्री हितेश सी0 अवस्थी , अपर मुख्य सचिव राजस्व श्रीमती रेणुका कुमार , अपर मुख्य सचिव एम०एस०एम0ई0 एवं सूचना श्री नवनीत सहगल , अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य श्री अमित मोहन प्रसाद , अपर मुख्य सचिव चिकित्सा शिक्षा डॉ0 रजनीश दुबे , अपर मुख्य सचिव ग्राम्य विकास एवं पंचायतीराज श्री मनोज कुमार सिंह , अपर मुख्य सचिव कृषि श्री देवेश चतुर्वेदी , अपर मुख्य सचिव मुख्यमंत्री श्री एस 0 पी 0 गोयल , अपर मुख्य सचिव महिला कल्याण एवं बाल विकास श्रीमती एस0 राधा चौहान , प्रमुख सचिव पशुपालन श्री भुवनेश कुमार , प्रमुख सचिव मुख्यमंत्री एवं सूचना श्री संजय प्रसाद , सचिव मुख्यमंत्री श्री आलोक कुमार , सूचना निदेशक श्री शिशिर सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे ।

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

Post Top Ad

Pages