Breaking News

शनिवार, 10 अक्तूबर 2020

मुख्यमंत्री योगी ने प्रदेश में कोविड-19 के प्रतिदिन 1 लाख 76 हजार से अधिक टेस्ट की क्षमता अर्जित किए जाने पर संतोष व्यक्त करते हुए टेस्टिंग कार्य में और तेजी लाने के निर्देश दिए

मुख्यमंत्री योगी ने प्रदेश में कोविड-19 के प्रतिदिन 1 लाख 76 हजार से अधिक टेस्ट की क्षमता अर्जित किए जाने पर संतोष व्यक्त करते हुए टेस्टिंग कार्य में और तेजी लाने के निर्देश दिए

उ0प्र0 मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रदेश में कोविड-19 के प्रतिदिन 01 लाख 76 हजार से अधिक टेस्ट की क्षमता अर्जित किए जाने पर संतोष व्यक्त करते हुए टेस्टिंग कार्य में और तेजी लाने के निर्देश दिए 

गत दिवस तक प्रदेश में कोविङ-19 के 01 करोड़ 17 लाख 26 हजार 75 टेस्ट सम्पन्न कोविङ -19 के दृष्टिगत हाई रिस्क ग्रुप को लक्षित करते हुए बेहतर चिकित्सा व्यवस्था सुनिश्चित की जाए सुदृढ़ करने के सम्बन्ध में लोगों को निरन्तर जागरूक किया जाए जनपद गोरखपुर , वाराणसी , आजमगढ़ , प्रयागराज तथा मेरठ में विशेष सतर्कता बरतने के निर्देश जनपद लखनऊ में रिकवरी दर बढ़ाने के लिए कारगर रणनीति तैयार करें स्वच्छता एवं सेनिटाइजेशन के विशेष अभियान के दौरान साफ - सफाई , सेनिटाइजेशन , एन्टीलार्वा रसायनों के छिड़काव का कार्य हर गांव , शहर , स्कूल , संस्था आदि में किया जाए 15 अक्टूबर , 2020 को वर्ल्ड हैण्ड वॉश डे के अवसर पर विशेष अभियान संचालित किया जाए 11 अक्टूबर , 2020 को आयोजित की जा रही सम्मिलित राज्य / प्रवर अधीनस्थ सेवा ( प्रारम्भिक ) परीक्षा को सुचारु ढंग से सम्पन्न कराने के लिए सभी आवश्यक प्रबन्ध सुनिश्चित किए जाएं नवरात्रि के अवसर पर 17 से 25 अक्टूबर , 2020 तक महिलाओं तथा बालिकाओं की सुरक्षा व सम्मान के दृष्टिगत विशेष अभियान प्रभावी ढंग से संचालित किया जाए माह नवम्बर , 2020 में यातायात सुरक्षा के सम्बन्ध में विशेष अभियान संचालित करने के निर्देश मुनाफाखोरी करने वाले तत्वों पर निगाह रखते हुए यह सुनिश्चित किया जाए कि जनता को सब्जी सहित सभी आवश्यक खाद्य सामग्री उचित मूल्य पर प्राप्त हो पराली न जलाने के सम्बन्ध में लोगों को जागरूक करते हुए बताया जाए कि यह प्रदूषण का कारण बनता है |

लखनऊ : 10 अक्टूबर, 2020 

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रदेश में कोविड-19 के प्रतिदिन 01 लाख 76 हजार से अधिक टेस्ट की क्षमता अर्जित किए जाने पर संतोष व्यक्त करते हुए टेस्टिंग कार्य में और तेजी लाने के निर्देश दिए हैं । 

उन्होंने कहा है कि कोविड -19 के संक्रमण के चेन को तोड़ने में मेडिकल टेस्टिंग की महत्वपूर्ण भूमिका है । इसके दृष्टिगत प्रदेश में टेस्टिंग कार्य पूरी सक्रियता से संचालित किया जाए । ज्ञातव्य है कि गत दिवस तक प्रदेश में कोविड -19 के 01 करोड़ 17 लाख 26 हजार 75 टेस्ट सम्पन्न हो चुके हैं । मुख्यमंत्री जी आज यहां अपने सरकारी आवास पर आहूत एक उच्चस्तरीय बैठक में अनलॉक व्यवस्था की समीक्षा कर रहे थे । उन्होंने कोविड -19 के दृष्टिगत हाई रिस्क ग्रुप को लक्षित करते हुए बेहतर चिकित्सा व्यवस्था सुनिश्चित किए जाने के निर्देश दिए हैं । उन्होंने कहा है कि इम्यून सिस्टम को सुदृढ़ करने के सम्बन्ध में लोगों को निरन्तर जागरूक किया जाए । मुख्यमंत्री जी ने कोविड चिकित्सालय की व्यवस्थाओं को चुस्त - दुरुस्त बनाए रखने के निर्देश देते हुए उन्होंने कहा कि सभी चिकित्सालयों में वरिष्ठ चिकित्सकों द्वारा नियमित राउण्ड लिया जाए । उन्होंने जनपद गोरखपुर , वाराणसी , आजमगढ़ , प्रयागराज तथा मेरठ में विशेष सतर्कता बरतने के निर्देश देते हुए कहा कि इन जिलों की चिकित्सा व्यवस्था को सुदृढ़ किया जाए । उन्होंने जनपद लखनऊ में रिकवरी दर बढ़ाने के लिए कारगर रणनीति तैयार करने के निर्देश भी दिए । मुख्यमंत्री जी ने कहा कि आज से स्वच्छता तथा सेनिटाइजेशन का विशेष अभियान प्रारम्भ हो रहा है , जो आगामी 16 अक्टूबर तक संचालित रहेगा । उन्होंने निर्देशित किया कि यह सुनिश्चित किया जाए कि अभियान के दौरान साफ - सफाई , सेनिटाइजेशन , एन्टीलार्वा रसायनों के छिड़काव का कार्य हर गांव , शहर , स्कूल , संस्था आदि में हो । उन्होंने अभियान में संचालित विभिन्न गतिविधियों की गहन मॉनिटरिंग किए जाने के भी निर्देश दिए हैं । उन्होंने कहा कि 15 अक्टूबर , 2020 को वर्ल्ड हैण्ड वॉश डे के अवसर पर विशेष अभियान संचालित किया जाए । मुख्यमंत्री जी ने निर्देशित किया कि 11 अक्टूबर , 2020 को आयोजित की जा रही सम्मिलित राज्य / प्रवर अधीनस्थ सेवा ( प्रारम्भिक ) परीक्षा -2020 को सुचारु ढंग से सम्पन्न कराने के लिए सभी आवश्यक प्रबन्ध सुनिश्चित किए जाएं । 

उन्होंने कहा कि नवरात्रि के अवसर पर 17 से 25 अक्टूबर , 2020 तक महिलाओं तथा बालिकाओं की सुरक्षा व सम्मान के दृष्टिगत विशेष अभियान प्रभावी ढंग से संचालित किया जाए । उन्होंने माह नवम्बर , 2020 में यातायात सुरक्षा के सम्बन्ध में विशेष अभियान संचालित करने के निर्देश भी दिए । मुख्यमंत्री जी ने निर्देश दिए कि मुनाफाखोरी करने वाले तत्वों पर निगाह रखते हुए यह सुनिश्चित किया जाए कि जनता को सब्जी सहित सभी आवश्यक खाद्य सामग्री उचित मूल्य पर प्राप्त हो । उन्होंने कहा कि पराली न जलाने के सम्बन्ध में लोगों को जागरूक करते हुए बताया जाए कि यह प्रदूषण का कारण बनता है । लोगों को यह भी जानकारी दी जाए कि पराली को गड्ढे में भरकर इसका उपयोग कम्पोस्ट खाद तैयार करने में किया जा सकता है । इस अवसर पर चिकित्सा शिक्षा मंत्री श्री सुरेश खन्ना , मुख्य सचिव श्री आर0के0 तिवारी , अवस्थापना एवं औद्योगिक विकास आयुक्त श्री आलोक टण्डन , कृषि उत्पादन आयुक्त श्री आलोक सिन्हा , अपर मुख्य सचिव गृह श्री अवनीश कुमार अवस्थी , पुलिस महानिदेशक श्री हितेश सी0 अवस्थी , अपर मुख्य सचिव एम0एस0एम0ई0 एवं सूचना श्री नवनीत सहगल , अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य श्री अमित मोहन प्रसाद , अपर मुख्य सचिव चिकित्सा शिक्षा डॉ0 रजनीश दुबे , अपर मुख्य सचिव ग्राम्य विकास एवं पंचायतीराज श्री मनोज कुमार सिंह , अपर मुख्य सचिव कृषि श्री देवेश चतुर्वेदी , अपर मुख्य सचिव मुख्यमंत्री श्री एस0पी0 गोयल , अपर मुख्य सचिव महिला कल्याण एवं बाल विकास श्रीमती एस 0 राधा चौहान , प्रमुख सचिव पशुपालन श्री भुवनेश कुमार , प्रमुख सचिव मुख्यमंत्री एवं सूचना श्री संजय प्रसाद , सचिव मुख्यमंत्री श्री आलोक कुमार , राहत आयुक्त श्री संजय गोयल , सूचना निदेशक श्री शिशिर सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे ।

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

Post Top Ad

Pages