Breaking News

बुधवार, 2 सितंबर 2020

मुख्यमंत्री योगी ने कोविड -19 के दृष्टिगत जनपद लखनऊ तथा कानपुर नगर की चिकित्सा व्यवस्था को सुदृढ़ करने के निर्देश दिए

मुख्यमंत्री योगी ने कोविड -19 के दृष्टिगत जनपद लखनऊ तथा कानपुर नगर की चिकित्सा व्यवस्था को सुदृढ़ करने के निर्देश दिए

मुख्यमंत्री योगी ने कोविड -19 के दृष्टिगत जनपद लखनऊ तथा कानपुर नगर की चिकित्सा व्यवस्था को सुदृढ़ करने के निर्देश दिए

मुख्यमंत्री योगी ने कोविड -19 के दृष्टिगत जनपद लखनऊ तथा कानपुर नगर की चिकित्सा व्यवस्था को सुदृढ़ करने के निर्देश दिए

उ0प्र0 मुख्यमंत्री ने कोविड -19 के दृष्टिगत जनपद लखनऊ तथा कानपुर नगर की चिकित्सा व्यवस्था को सुदृढ़ करने के निर्देश दिए इन जनपदों में मेडिकल टेस्टिंग , कॉन्टैक्ट ट्रेसिंग तथा डोर - टू - डोर सर्वे कार्य को और बेहतर ढंग से संचालित किया जाए लक्षण की दृष्टि से संदिग्ध पाए गए लोगों का 12 घण्टे के अंदर एन्टीजन टेस्ट सुनिश्चित किया जाए कॉन्टैक्ट ट्रेसिंग के कार्य को तत्परतापूर्वक संचालित करते हुए कोविड पॉजिटिव रोगी के सम्पर्क में आए लोगों को 24 घण्टे के अंदर सर्च किया जाए डोर - टू - डोर सर्वे करने वाली टीम के साथ एक मेडिकल टेस्टिंग टीम भी लगायी जाए कोविड चिकित्सालयों में बेड्स की संख्या बढ़ाने के निर्देश , के 0 जी 0 एम 0 यू 0 , एस 0 जी 0 पी 0 जी 0 आई 0 तथा आर ० एम ० एल 0 आई 0 एम 0 एस 0 कोविड मरीजों के लिए बेड्स की संख्या में वृद्धि करें निजी चिकित्सा संस्थानों में संचालित कोविड अस्पतालों में बेड्स में वृद्धि के लिए जिला प्रशासन कार्ययोजना बनाकर उसे समयबद्ध ढंग से लागू कराए वेण्टीलेटर तथा एच ० एन ० एफ 0 सी 0 के बेड्स की संख्या में वृद्धि की जाए कोविड -19 से बचाव व उपचार सम्बन्धी गतिविधियों में तेजी लाने के लिए अतिरिक्त मैनपावर की आवश्यकता का आकलन करते हुए कार्मिकों की तैनाती की जाए कोविड -19 के नियंत्रण के सम्बन्ध में सभी जनपदों के चिकित्सकों से संवाद करने के लिए राज्य मुख्यालय स्तर पर डिजिटल प्लैटफॉर्म की व्यवस्था की जाए |
लखनऊ: 02 सितम्बर, 2020 
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने कोविड -19 के दृष्टिगत जनपद लखनऊ तथा कानपुर नगर की चिकित्सा व्यवस्था को सुदृढ़ किए जाने के निर्देश दिए हैं । उन्होंने कहा है कि इन जनपदों में मेडिकल टेस्टिंग , कॉन्टैक्ट ट्रेसिंग तथा डोर - टू - डोर सर्वे कार्य को और बेहतर ढंग से संचालित किया जाए । 
उन्होंने कोविड -19 से बचाव के सम्बन्ध में लोगों को निरन्तर जागरूक किए जाने के निर्देश भी दिए हैं । मुख्यमंत्री जी आज यहां अपने सरकारी आवास पर वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से जनपद लखनऊ तथा कानपुर नगर में कोविड -19 के नियंत्रण के सम्बन्ध में की जा रही कार्यवाही की समीक्षा कर रहे थे । उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार लोगों को गुणवत्तापूर्ण चिकित्सा सुविधा उपलब्ध कराने के लिए कृत संकल्पित है । मुख्यमंत्री जी ने निर्देश दिए कि लक्षण की दृष्टि से संदिग्ध पाए गए लोगों का 12 घण्टे के अंदर एन्टीजन टेस्ट सुनिश्चित किया जाए । कॉन्टैक्ट ट्रेसिंग के कार्य को तत्परतापूर्वक संचालित करते हुए कोविड पॉजिटिव रोगी के सम्पर्क में आए लोगों को 24 घण्टे के अंदर सर्च किया जाए । मुख्यमंत्री जी ने डोर - टू - डोर सर्वे कार्य को पूरी क्षमता से संचालित करने के निर्देश दिए हैं । उन्होंने कहा कि डोर - टू - डोर सर्वे करने वाली टीम के साथ एक मेडिकल टेस्टिंग टीम भी लगायी जाए । इसके लिए कार्ययोजना बनाकर उसे लागू किया जाए । कोविड चिकित्सालयों में बेड्स की संख्या बढ़ाने के निर्देश देते हुए मुख्यमंत्री जी ने कहा कि के ० जी ० एम ० यू ० , एस 0 जी 0 पी 0 जी 0 आई 0 तथा आर 0 एम 0 एल 0 आई 0 एम 0 एस 0 कोविड मरीजों के लिए बेड्स की संख्या में वृद्धि करें । इसी प्रकार निजी चिकित्सा संस्थानों में संचालित कोविड अस्पतालों में बेड्स में वृद्धि के लिए जिला प्रशासन कार्ययोजना बनाकर उसे समयबद्ध ढंग से लागू कराए । वेण्टीलेटर तथा एच 0 एन 0 एफ 0 सी 0 ( हाई फ्लो नेज़ल कैन्युला ) के बेड्स की संख्या में भी वृद्धि की जाए । उन्होंने कोविड तथा नॉन कोविड अस्पतालों में ऑक्सीजन के कम से कम 48 घण्टे के बैकअप की व्यवस्था सुनिश्चित करने के निर्देश भी दिए ।
मुख्यमंत्री जी ने कहा कि कोरोना पर जीत हासिल करने के लिए जरूरी है कि इसके साथ युद्ध पूरी मजबूती से लड़ा जाए । उन्होंने निर्देश दिए कि जिलाधिकारी तथा मुख्य चिकित्साधिकारी सुबह मेडिकल कॉलेज में शाम को इन्टीग्रेटेड कमाण्ड एण्ड कण्ट्रोल सेण्टर में नियमित रूप से बैठक कर गहन समीक्षा करें । मुख्यमंत्री जी ने कहा कि कोविड -19 से बचाव व उपचार के सम्बन्ध में संचालित की जा रही विभिन्न गतिविधियों में तेजी लाने के लिए अतिरिक्त मैनपावर की आवश्यकता का आकलन किया जाए । इसके अनुरूप कार्यवाही करते हुए कार्मिकों की तैनाती की जाए । उन्होंने कहा कि राज्य मुख्यालय स्तर पर एक डिजिटल प्लैटफॉर्म की व्यवस्था की जाए , जो कोविड -19 के नियंत्रण के सम्बन्ध में सभी जनपदों के चिकित्सकों से संवाद करे । उन्होंने कोविड मरीजों की गहन मॉनीटरिंग करने , कोविड वॉर्ड में सी 0 सी 0 टी 0 वी 0 स्थापित करने तथा वरिष्ठ चिकित्सकों द्वारा नियमित राउण्ड लेकर मरीजों को देखे जाने के निर्देश भी दिए । इस अवसर पर चिकित्सा शिक्षा मंत्री श्री सुरेश खन्ना , स्वास्थ्य मंत्री श्री जय प्रताप सिंह , मुख्य सचिव श्री आर 0 के 0 तिवारी , अपर मुख्य सचिव मुख्यमंत्री श्री एस 0 पी 0 गोयल , अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य श्री अमित मोहन प्रसाद , अपर मुख्य सचिव चिकित्सा शिक्षा डॉ 0 रजनीश दुबे , सचिव मुख्यमंत्री श्री आलोक कुमार , सूचना निदेशक श्री शिशिर , के 0 जी 0 एम 0 यू 0 के कुलपति लेफ्टिनेन्ट जनरल ( डॉ० ) बिपिन पुरी , एस 0 जी 0 पी 0 जी 0 आई 0 , लखनऊ के निदेशक प्रो0आर0के0 धीमान , आर0एम0एल0 आई0एम0एस0 की कार्यवाहक निदेशक प्रो 0 नुजहत हुसैन सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे ।

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

Post Top Ad

Pages