Breaking News

गुरुवार, 30 जुलाई 2020

विकास के नाम पर बंगरा में हुआ करोड़ों का गड़बड़झाला

रिपोर्ट-संजीव सिपौल्या www.upviral24.in  विकास के नाम पर बंगरा में हुआ करोड़ो का गड़बड़झाला

विकास के नाम पर बंगरा में हुआ करोड़ो का गड़बड़झाला

उरई जालौन- विकासखंड नदीगांव ब्लाक के ग्राम पंचायत बंगरा की मौजूदा ग्राम प्रधान मीरा दीक्षित पत्नी  विष्णु का पुत्र सोनू दीक्षित ने ग्राम सचिव के साथ गांव के विकास के कार्यों का फर्जी भुगतान कर धनराशि का बन्दरबाट कर लिया है, इनके पांचबर्षो में विकास कार्य के नाम पर केवल घोटाले हुए हैं विकास कार्य तो सिर्फ कागजों में ही दिखाई दे रहा है,ग्राम प्रधानपुत्र सोनू दीक्षित और पंचायत सचिव ने मिलकर श्रीनाथ के मकान से विनोद के मकान तक पहले से ही पड़े  सीसी का प्रधान पुत्र और सचिव ने मिलकर  इस सड़क का फर्जी तरीके से भुगतान कर  विकास के पैसे का  बंदरबांट कर लिया तो वहीं मनोज के घर से शहजाद के घर तक ,पप्पू के घर से जाकिर के घर तक,धर्मेंद्र के घर से पोस्ट ऑफिस तक सड़कों का सड़क मरम्मत के नाम पर फर्जी तरीके से भुगतान कर पैसे का बड़े स्तर पर भ्रष्टाचार किया गया है  प्रधानमंत्री आवास योजना  मैं लगभग दो सैकड़ा लोगों को लाभ मिलना था  जिसमें लगभग सभी लाभार्थियों से बीस हज़ार रुपये लगभग सभी लाभार्थियों से बसूले गए एवं लगभग दो दर्जन लाभार्थियों के आवास के पैसे फर्जी तरीके से निकाल लिए गए और और लोगो को भनक तक नहीं लगी,शौचालय के नाम पर भी गाँव मे बड़े पैमाने पर भ्रष्टाचार हुआ है शिकायतकर्ता अनुरुद्ध यादव उर्फ भोले एवं लबवीर सिंह सहित दर्जनों लोगों ने लोकायुक्त महोदय,प्रधानमंत्री कार्यालय,मुख्य विकासाधिकारी जालौन, जिलाधिकारी जालौन को लिखित शिकायत देकर न्याय की गुहार लगाई थी,जिसका फिलहाल अभी हाल ही में ग्राम पंचायत में मुख्यालय से पाँच सदस्यीय टीम ने आकर गाँव मे विकास के नाम पर हुए फर्जीबाड़े की जाँच की थी पर अभी तक उसका परिणाम उज़ागर नही हुआ जिससे ग्रामीणों में खासा रोष व्याप्त है अब देखना ये हैं कि इस जाँच का गाँव के भ्रष्टाचार पर कितना प्रभाब पड़ता हैं या ये सेटिंग-गेटिंग का खेल यूँही चलता रहेगा | 

रिपोर्ट-संजीव सिपौल्या

www.upviral24.in

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

Post Top Ad

Pages