Breaking News

बुधवार, 6 मई 2020

रोजगार की संभावनाओं को चिन्हित करने के लिए अध्ययन कराया जाए -मुख्यमंत्री योगी Study should be conducted to identify employment prospects - Chief Minister Yogi


रोजगार की संभावनाओं को चिन्हित करने के लिए अध्ययन कराया जाए  -मुख्यमंत्री योगी Study should be conducted to identify employment prospects - Chief Minister Yogi     संवाददाता, Journalist Anil Prabhakar.                 www.upviral24.in

रोजगार की संभावनाओं को चिन्हित करने के लिए अध्ययन कराया जाए  -मुख्यमंत्री योगी Study should be conducted to identify employment prospects - Chief Minister Yogi     संवाददाता, Journalist Anil Prabhakar.                 www.upviral24.in

रोजगार की संभावनाओं को चिन्हित करने के लिए अध्ययन कराया जाए  -मुख्यमंत्री योगी Study should be conducted to identify employment prospects - Chief Minister Yogi     संवाददाता, Journalist Anil Prabhakar.                 www.upviral24.in

रोजगार की संभावनाओं को चिन्हित करने के लिए अध्ययन कराया जाए  -मुख्यमंत्री योगी Study should be conducted to identify employment prospects - Chief Minister Yogi     संवाददाता, Journalist Anil Prabhakar.                 www.upviral24.in

रोजगार की संभावनाओं को चिन्हित करने के लिए अध्ययन कराया जाए  -मुख्यमंत्री योगी Study should be conducted to identify employment prospects - Chief Minister Yogi     संवाददाता, Journalist Anil Prabhakar.                 www.upviral24.in

  • उ0प्र0 रोजगार की सम्भावनाओं को चिन्हित करने के लिए अध्ययन कराया जाए : मुख्यमंत्री  
  • राजस्व वृद्धि से जुड़े प्रकरणों में तेजी से निर्णय लेने के निर्देश 
  • ई - हॉस्पिटल तथा टेलीमेडिसिन सेवाओं का प्रभावी संचालन कराया जाए 
  • एम्बुलेंस के ड्राइवर सहित उनमें तैनात अन्य कर्मियों को ग्लव्स और मास्क अनिवार्य रूप से उपलब्ध कराए जाएं 
  • ऑरेन्ज तथा ग्रीन जोन में स्टेशनरी की दुकानों को खोलने की अनुमति दी जाए 
  • न्यायालय परिसरों को सेनिटाइज करते हुए वहां सुरक्षा के साथ ही इंफ्रारेड थर्मामीटर , थर्मल स्कैनर तथा सेनिटाइजर की व्यवस्था की जाए 
  • हॉटस्पॉट क्षेत्रों में सेनिटाइजेशन कार्य को सघन बनाने के निर्देश 
  • कोविड - 19 से लड़ने के लिए स्वास्थ्य सिस्टम तथा समाज , दोनों को निरन्तर सजग व तैयार रहना होगा 
  • हर व्यक्ति ' आरोग्य सेतु ' तथा ' आयुष कवच कोविड मोबाइल एप डाउनलोड कर अपने को सुरक्षित रखे , इसका व्यापक प्रचार - प्रसार किया जाए 
  • मण्डियों में संक्रमण रोकने के लिए सोशल डिस्टेंसिंग का कड़ाई से पालन कराते हुए मास्क और ग्लव्स का प्रयोग अनिवार्य किया जाए 
  • संचारी रोगों पर प्रभावी नियंत्रण के लिए विशेष स्वच्छता अभियान चलाया जाए 

लखनऊ : 08 मई , 2020
उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने रोजगार की सम्भावनाओं को चिन्हित करने के लिए अध्ययन कराने के निर्देश दिए हैं । उन्होंने कहा है कि एम०एस०एम०ई0 सेक्टर की इकाइयां प्रदेश के औद्योगिक विकास की रीढ़ हैं । इनकी हर सम्भव सहायता की जाए । उद्यमों को पूरी सतर्कता और सावधानी बरतते हुए संचालित कराया जाए । उन्होंने राजस्व वृद्धि से जुड़े प्रकरणों में तेजी से निर्णय लेने के निर्देश दिए हैं ।   
मुख्यमंत्री जी आज यहां अपने सरकारी आवास पर आहूत एक उच्च स्तरीय बैठक में लॉकडाउन व्यवस्था की समीक्षा कर रहे थे । उन्होंने कहा कि एम्बुलेंस के ड्राइवर सहित उनमें तैनात अन्य कर्मियों को ग्लव्स और मास्क अनिवार्य रूप से । उपलब्ध कराए जाएं । नॉन - कोविड अस्पतालों में इमरजेंसी सेवाओं के संचालन के लिए डॉक्टरों सहित पूरी मेडिकल टीम को संक्रमण से बचाव का प्रशिक्षण दिया जाए । इन्हें प्रोटेक्शन इक्युपमेंट अनिवार्य रूप से उपलब्ध कराए जाए । अस्पतालों में मेडिकल इंफेक्शन से बचाव सम्बन्धी प्रोटोकॉल का पालन कराया जाए । यह सुनिश्चित किया जाए कि पी0पी0ई0 किट्स , एन - 95 मास्क तथा सेनिटाइजर पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध रहें । मुख्यमंत्री जी ने कहा कि टेलीफोन के माध्यम से लोगों को चिकित्सा परामर्श उपलब्ध कराने के लिए टेलीमेडिसिन व्यवस्था को सुदृढ़ किया गया है । इसके साथ ही , ई - हॉस्पिटल को भी बढ़ावा दिया जा रहा है । उन्होंने ई - हॉस्पिटल तथा टेलीमेडिसिन सेवाओं के प्रभावी संचालन के निर्देश दिए हैं । मुख्यमंत्री जी ने कहा कि कोविड - 19 से लड़ने के लिए स्वास्थ्य सिस्टम तथा समाज , दोनों को निरन्तर सजग व तैयार रहना होगा । लोगों को जागरूक करने तथा प्रतिरोधक क्षमता में वृद्धि के उपायों की जानकारी उपलब्ध कराने के उद्देश्य से भारत सरकार द्वारा आरोग्य सेतु एप लॉन्च किया गया । इसी क्रम में प्रदेश सरकार द्वारा ' आयुष कवच कोविड ' एप लॉन्च किया गया है । इस एप में रोग प्रतिरोधक क्षमता वृद्धि के उपाय बताए गए हैं । आयुर्वेद तथा योग को अपनाकर बीमारी से बचाव के नुस्खे दिए गए हैं । उन्होंने कहा कि हर व्यक्ति ' आरोग्य सेतु ' तथा ' आयुष कवच कोविड मोबाइल एप डाउनलोड कर अपने को सुरक्षित रखे , इसका व्यापक प्रचार - प्रसार किया जाए । मुख्यमंत्री जी ने कहा कि न्यायालय परिसरों को सेनिटाइज करते हुए वहां सुरक्षा के साथ ही इंफ्रारेड थर्मामीटर , थर्मल स्कैनर तथा सेनिटाइजर की व्यवस्था की जाए । ऑरेन्ज तथा ग्रीन जोन में स्टेशनरी की दुकानों को खोलने की अनुमति दी जाए । मण्डियों में संक्रमण रोकने के लिए सोशल डिस्टेंसिंग का कड़ाई से । पालन कराते हुए मास्क और ग्लव्स का प्रयोग अनिवार्य किया जाए । मुख्यमंत्री जी ने हॉटस्पॉट क्षेत्रों में सेनिटाइजेशन कार्य को सघन बनाने के । निर्देश दिए । उन्होंने कहा कि क्वारंटीन सेन्टर , शेल्टर होम तथा कम्युनिटी किचन व्यवस्था को और सुदृढ़ किया जाए । ग्रामीण इलाकों में स्थापित क्वारंटीन सेन्टर को क्रियाशील रखा जाए । उन्होंने कहा कि नगर विकास , ग्राम्य विकास एवं पंचायती राज विभागों द्वारा समन्वित प्रयास कर विशेष स्वच्छता अभियान चलाया जाए । संचारी रोगों पर प्रभावी नियंत्रण के लिए इस प्रकार के अभियान का संचालन आवश्यक है । मुख्यमंत्री जी ने कहा कि प्रवासी कामगारों और श्रमिकों को दुग्ध समितियों से जोड़ते हुए उन्हें आर्थिक रूप से स्वावलम्बी बनाया जा सकता है । इसलिए प्रदेश की सभी ग्राम पंचायतों में दुग्ध समितियों के गठन के गम्भीरता से प्रयास किए जाएं । इनके माध्यम से ग्रामीण इलाकों में बड़ी संख्या में रोजगार के अवसर उपलब्ध कराए जा सकते हैं । इस अवसर पर चिकित्सा शिक्षा मंत्री श्री सुरेश खन्ना , स्वास्थ्य मंत्री श्री जय प्रताप सिंह , स्वास्थ्य राज्यमंत्री श्री अतुल गर्ग , मुख्य सचिव श्री आर0के0 तिवारी , कृषि उत्पादन आयुक्त श्री आलोक सिन्हा , अवस्थापना एवं औद्योगिक विकास आयुक्त श्री आलोक टण्डन , अपर मुख्य सचिव सूचना एवं गृह श्री अवनीश कुमार अवस्थी , अपर मुख्य सचिव राजस्व श्रीमती रेणुका कुमार , अपर मुख्य सचिव वित्त श्री संजीव मित्तल , पुलिस महानिदेशक श्री हितेश सी0 अवस्थी , प्रमुख सचिव स्वास्थ्य श्री अमित मोहन प्रसाद , प्रमुख सचिव मुख्यमंत्री श्री संजय प्रसाद , प्रमुख सचिव एम0एस0एम0ई0 श्री नवनीत सहगल , प्रमुख सचिव ग्राम्य विकास एवं पंचायतीराज श्री मनोज कुमार सिंह , प्रमुख सचिव कृषि डॉ0 देवेश चतुर्वेदी , प्रमुख सचिव पशुपालन श्री भुवनेश कुमार , सचिव मुख्यमंत्री श्री आलोक कुमार , सूचना निदेशक श्री शिशिर सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे ।   


  • A study should be conducted to identify the possibilities of UP employment: Chief Minister
  • Instructions for fast decision in revenue related cases
  • The effective operation of e-hospital and telemedicine services
  • Gloves and masks must be provided compulsorily to the ambulance driver and other personnel deployed in them
  • Permission to open stationery shops in Orange and Green Zone
  • While sanitizing the court premises, there should be security along with the infrared thermometer, thermal scanner, and sanitizer
  • Instructions for intensive sanitization work in hotspot areas
  • Both the health system and society have to be constantly alert and ready to fight Covid - 19
  • Every person should protect themselves by downloading 'Arogya Setu' and 'Aayush Kavach Covid Mobile App', it should be widely publicized.
  • The use of masks and gloves should be made compulsory, strictly following social distancing to prevent infection in mandis.
  • Special cleanliness drive should be conducted for effective control over communicable diseases


Lucknow: May 08, 2020
Uttar Pradesh Chief Minister Yogi Adityanath Ji has given instructions to conduct studies to identify employment possibilities. He has said that units of the MSME sector are the backbone of the industrial development of the state. Every possible help should be given to them. Enterprises should be run with full caution and caution. He has directed to take fast decisions in cases related to revenue growth.
The Chief Minister was reviewing the lockdown system at a high-level meeting convened at his government residence here today. He said the gloves and masks were essentially compulsory to the ambulance driver and other personnel stationed in them. Be provided. The entire medical team, including doctors, should be given infection prevention training to conduct emergency services in non-Covid hospitals. Protection equipment must be made available to them. Protocol related to medical infection prevention in hospitals should be followed. It should be ensured that a sufficient quantity of PPE kits, N-95 masks, and sanitizers are available. The Chief Minister said that the telemedicine system has been strengthened to provide medical counseling to the people through telephone. Along with this, the e-hospital is also being promoted. He has given instructions for the effective operation of e-hospital and telemedicine services. Chief Minister said that both the health system and society will have to be constantly alert and ready to fight Covid-19. The Arogya Setu App was launched by the Government of India with the aim of making people aware and providing information about measures to increase immunity. In this sequence, the 'Ayush Kavach Covid' app has been launched by the state government. In this app, measures to increase immunity have been described. Disease prevention tips have been given by adopting Ayurveda and Yoga. He said that every person should keep himself safe by downloading 'Arogya Setu' and 'Aayush Kavach Covid Mobile App', it should be widely publicized. The Chief Minister said that while sanitizing the court premises, there should be security along with the infrared thermometer, thermal scanner, and sanitizer. Permission to open stationery shops in Orange and Green Zone Be given. Strict social distancing to prevent infection in mandis. The use of masks and gloves should be made compulsory. Chief Minister to intensify sanitation work in hotspot areas. gave instructions. He said that the quarantine center, shelter home, and community kitchen system should be strengthened further. Quarantine centers set up in rural areas should be kept functional. He said that a special cleanliness campaign should be launched by coordinating efforts by the Urban Development, Rural Development and Panchayati Raj Departments. For effective control over communicable diseases, it is necessary to conduct such a campaign. The Chief Minister said that by connecting migrant workers and workers with milk societies, they can be made financially independent. Therefore, serious efforts should be made to establish milk committees in all gram panchayats of the state. Through them, a large number of employment opportunities can be provided in rural areas. On this occasion, Medical Education Minister Mr. Suresh Khanna, Health Minister Mr. Jai Pratap Singh, Minister of State for Health Mr. Atul Garg, Chief Secretary Mr. RK Tiwari, Agriculture Production Commissioner Mr. Alok Sinha, Infrastructure and Industrial Development Commissioner Mr. Alok Tandon, Additional Chief Secretary Information and Home Shri Avnish Kumar Awasthi, Additional Chief Secretary Revenue Mrs. Renuka Kumar, Additional Chief Secretary Finance Mr. Sanji And Mittal, Director General of Police Mr. Hitesh C. Awasthi, Principal Secretary Health Mr. Amit Mohan Prasad, Principal Secretary Chief Minister Mr. Sanjay Prasad, Principal Secretary MSME Mr. Navneet Sehgal, Principal Secretary Rural Development and Panchayati Raj Mr. Manoj Kumar Singh, Principal Secretary Agriculture Dr. Devesh Chaturvedi, Principal Secretary Animal Husbandry Mr. Bhuvanesh Kumar, Secretary Chief Minister Mr. Alok Kumar, Information Director Mr. Shishir Other senior officers were present.




कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

Post Top Ad

Pages