Breaking News

बुधवार, 13 मई 2020

यह सुनिश्चित किया जाए कि प्रवासी कामगार/श्रमिक किसी भी दशा में पैदल न आएं, उनके लिए वाहन उपलब्ध करवाये जाएं -सीएम योगी It should be ensured that migrant workers/laborers do not come on foot in any case, vehicles should be provided for them. -CM YOGI

यह सुनिश्चित किया जाए कि प्रवासी कामगार/श्रमिक किसी भी दशा में पैदल न आएं, उनके लिए वाहन उपलब्ध करवाये जाएं -CM YOGI It should be ensured that migrant workers/laborers do not come on foot in any case, vehicles should be provided for them. -CM YOGI       संवाददाता, Journalist Anil Prabhakar.                 www.upviral24.in

  1. उ0प्र0 यह सुनिश्चित किया जाए कि प्रवासी कामगार / श्रमिक किसी भी दशा में पैदल न आएं , उनके लिए वाहन उपलब्ध करवाये जाएं 
  2. प्रवासी श्रमिकों / कामगारों को रोजगार उपलब्ध कराने के लिए वृहद कार्ययोजना बनाने के कार्य में तेजी लाने के निर्देश 
  3. कोविड - 19 से प्रभावित आर्थिक गतिविधियों की बहाली के लिए औद्योगिक विकास को बढ़ावा देना आवश्यक : मुख्यमंत्री 
  4. राजस्व तथा औद्योगिक विकास विभाग लैण्ड बैंक स्थापना की कार्ययोजना बनाते हुए उसे लागू करें 
  5. प्रदेश में रह रहे अन्य राज्यों के श्रमिकों / कामगारों के उनके गृह प्रदेश में भेजने के लिए सम्बन्धित राज्य को इनकी सूची उपलब्ध कराई जाए 
  6. दुकानों , मण्डियों , बैंक शाखाओं आदि में सोशल डिस्टेंसिंग का सख्ती से पालन कराया जाए 
  7. मुख्यमंत्री हेल्प लाइन द्वारा निगरानी समितियों के सदस्यों से संवाद जारी रखा जाए 
  8. सभी नर्सिंग होम स्वास्थ्य विभाग के प्रोटोकॉल का पालन करते हुए चिकित्सा सुविधाएं उपलब्ध कराएं 
  9. जनपद आगरा , मेरठ तथा कानपुर नगर में लॉकडाउन को कड़ाई से लागू करने के निर्देश 
  10. प्रदेश में बड़ी संख्या में आ रहे प्रवासी कामगारों / श्रमिकों के दृष्टिगत क्वारंटीन की क्षमता को बढ़ाया जाए 

लखनऊ : 13 मई , 2020
उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने कहा है कि यह सुनिश्चित किया जाए कि प्रवासी कामगार / श्रमिक किसी भी दशा में पैदल न आएं , उनके लिए वाहन उपलब्ध करवाये जाएं । सभी प्रवासी कामगारों / श्रमिकों की स्क्रीनिंग कर उन्हें क्वारंटीन किया जाए । अस्वस्थ होने की दशा में इनके उपचार की व्यवस्था की जाए । उन्होंने प्रवासी श्रमिकों / कामगारों को रोजगार उपलब्ध कराने के लिए वृहद कार्ययोजना बनाने के कार्य में तेजी लाने के निर्देश भी दिए हैं । मुख्यमंत्री जी आज यहां लोक भवन में आहूत एक उच्च स्तरीय बैठक में लॉकडाउन व्यवस्था की समीक्षा कर रहे थे । उन्होंने कहा कि कोविड - 19 से प्रभावित आर्थिक गतिविधियों की बहाली के लिए औद्योगिक विकास को बढ़ावा देना आवश्यक है । इसके लिए सेक्टोरल नीतियों का आवश्यकतानुसार सरलीकरण किया जाए । नए उद्योगों की स्थापना के लिए भूमि की पर्याप्त उपलब्धता आवश्यक है । इस उद्देश्य से राजस्व तथा औद्योगिक विकास विभाग लैण्ड बैंक स्थापना की कार्ययोजना बनाते हुए उसे लागू करने का काम करें । मुख्यमंत्री जी ने कहा कि प्रदेश में रह रहे अन्य राज्यों के श्रमिकों / कामगारों के उनके गृह प्रदेश में भेजने के लिए सम्बन्धित राज्य को ऐसे श्रमिकों / कामगारों की सूची उपलब्ध कराई जाए । दुकानों , मण्डियों , बैंक शाखाओं आदि में सोशल डिस्टेंसिंग का सख्ती से पालन कराया जाए । यह सुनिश्चित किया जाए कि सभी लोग मास्क अवश्य पहनें । गांव तथा शहर में सर्विलांस कार्य को और प्रभावी करने के लिए निगरानी समितियों को सुदृढ बनाया जाए । मुख्यमंत्री हेल्प लाइन के द्वारा निगरानी समितियों के सदस्यों से संवाद जारी रखा जाए । उन्होंने जनपद आगरा , मेरठ तथा कानपुर नगर में लॉकडाउन को कड़ाई से लागू करने के निर्देश दिए । मुख्यमंत्री जी ने कहा कि प्रदेश में बड़ी संख्या में प्रवासी कामगार / श्रमिक आ रहे हैं । इसके दृष्टिगत क्वारंटीन की क्षमता को बढ़ाया जाए । कम्युनिटी किचन व्यवस्था को और बेहतर बनाते हुए सभी के लिए पर्याप्त भोजन की उपलब्धता सुनिश्चित कराई जाए । यह सुनिश्चित हो कि कोई भी भूखा न रहे । क्वारंटीन सेन्टर / आश्रय स्थल पर साफ - सफाई तथा सुरक्षा के पुख्ता इन्तजाम किए जाएं । 
मुख्यमंत्री जी ने निर्देश दिए कि प्रदेश के सभी नर्सिंग होम कोविड - 19 के संक्रमण से सुरक्षा सम्बन्धी स्वास्थ्य विभाग के प्रोटोकॉल का पालन करते हुए चिकित्सा सुविधाएं उपलब्ध कराएं । सभी जनपदों में आवश्यकतानुसार वेण्टीलेटर की व्यवस्था सुनिश्चित की जाए । चिकित्सालयों में पी0पी0ई0 किट , एन - 95 मास्क तथा सेनिटाइजर की पर्याप्त उपलब्धता एवं समुचित वितरण सुनिश्चित कराया जाए । कोविड अस्पतालों की संख्या में वृद्धि करते हुए एल - 1 , एल - 2 तथा एल - 3 कोविड चिकित्सालयों में 01 लाख बेड की व्यवस्था की जाए । मुख्यमंत्री हेल्प लाइन के माध्यम से कोविड अस्पतालों के मरीजों के स्वास्थ्य लाभ की जानकारी प्राप्त की जाए । उन्होंने पूल टेस्टिंग में वृद्धि करने के निर्देश भी दिए । इस अवसर पर चिकित्सा शिक्षा मंत्री श्री सुरेश खन्ना , स्वास्थ्य मंत्री श्री जय प्रताप सिंह , स्वास्थ्य राज्यमंत्री श्री अतुल गर्ग , मुख्य सचिव श्री आर0के0 तिवारी , कृषि उत्पादन आयुक्त श्री आलोक सिन्हा , अवस्थापना एवं औद्योगिक विकास आयुक्त श्री आलोक टण्डन , अपर मुख्य सचिव सूचना एवं गृह श्री अवनीश कुमार अवस्थी , अपर मुख्य सचिव राजस्व श्रीमती रेणुका कुमार , अपर मुख्य सचिव वित्त श्री संजीव मित्तल , पुलिस महानिदेशक श्री हितेश सी० अवस्थी , प्रमुख सचिव स्वास्थ्य श्री अमित मोहन प्रसाद , प्रमुख सचिव मुख्यमंत्री श्री एस0पी0 गोयल तथा श्री संजय प्रसाद , प्रमुख सचिव एम०एस०एम०ई० श्री नवनीत सहगल , प्रमुख सचिव ग्राम्य विकास एवं पंचायतीराज श्री मनोज कुमार सिंह , प्रमुख सचिव कृषि डॉ0 देवेश चतुर्वेदी , प्रमुख सचिव पशुपालन श्री भुवनेश कुमार , प्रमुख सचिव खाद्य एवं रसद श्रीमती निवेदिता शुक्ला वर्मा , सचिव मुख्यमंत्री श्री आलोक कुमार , सूचना निदेशक श्री शिशिर सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे ।

  1. Uttar Pradesh should be ensured that migrant workers/workers do not come on foot in any case, vehicles should be provided for them.
  2. Instructions to expedite the work of preparing a broad action plan to provide employment to migrant workers/workers
  3. Promotion of industrial development necessary for the restoration of economic activities affected by covid-19: Chief Minister
  4. Revenue and Industrial Development Department should prepare and implement a land bank plan
  5. To send the list of workers/workers from other states living in the state to their home state, the list should be made available to the concerned state.
  6. Social distancing should be strictly followed in shops, mandis, bank branches, etc.
  7. The Chief Minister Helpline should continue to communicate with the members of the monitoring committees
  8. Provide nursing facilities following the protocols of all nursing home health departments
  9. Instructions to strictly implement lockdown in Agra, Meerut and Kanpur cities
  10. In view of a large number of migrant workers/workers in the state, the capacity of quarantine should be increased

Lucknow: May 13, 2020, 
Uttar Pradesh Chief Minister Yogi Adityanath Ji has said that it should be ensured that migrant workers/laborers do not come on foot in any case, vehicles should be provided for them. All migrant workers/workers should be screened and quarantined. In the event of becoming unwell, their treatment should be arranged. He has also instructed to expedite the work of preparing a comprehensive action plan to provide employment to migrant workers/workers. The Chief Minister was reviewing the lockdown system at a high-level meeting convened at Lok Bhawan here today. He said that it is necessary to promote industrial development for the restoration of economic activities affected by covid-19. For this, sectoral policies should be simplified as needed. Adequate availability of land is necessary for the establishment of new industries. For this purpose, the Department of Revenue and Industrial Development should prepare the work plan for the establishment of a land bank and implement it. The Chief Minister said that the list of such workers/workers should be made available to the concerned state for sending workers/workers from other states living in the state to their home state. Social distancing should be strictly followed in shops, mandis, bank branches, etc. It should be ensured that all people wear masks. Monitoring committees should be strengthened to make surveillance work more effective in villages and cities. Chief Minister Helpline should continue to communicate with the members of the monitoring committees. He directed to strictly implement the lockdown in Agra, Meerut and Kanpur districts. Chief Minister said that a large number of migrant workers/workers are coming to the state. In view of this, the capacity of quarantine should be increased. Adequate food should be made available to all by making the community kitchen system better. Ensure that no one remains hungry. Strong arrangements for cleanliness and security should be made at the Quarantine Center/shelter site. 
The Chief Minister directed that all nursing homes in the state should provide medical facilities following the protocols of the Health Department related to the infection of covid-19. Ventilator arrangements should be ensured in all the districts as per requirements. Adequate availability and proper distribution of PPE kits, N-95 masks, and sanitizers should be ensured in hospitals. Increasing the number of covid hospitals, arrangements for 01 lakh beds should be made in L-1, L-2, and L-3 covid hospitals. Information about the health benefits of patients of covid hospitals should be obtained through Chief Minister Helpline. He also gave instructions to increase pool testing. On this occasion, Medical Education Minister Mr. Suresh Khanna, Health Minister Mr. Jai Pratap Singh, Minister of State for Health Mr. Atul Garg, Chief Secretary Mr. RK Tiwari, Agriculture Production Commissioner Mr. Alok Sinha, Infrastructure and Industrial Development Commissioner Mr. Alok Tandon, Additional Chief Secretary Information and Home Shri Avneesh Kumar Awasthi, Additional Chief Secretary Revenue Mrs. Renuka Kumar, Additional Chief Secretary Finance Mr. Sanji And Mittal, Director General of Police, Mr. Hitesh C. Awasthi, Principal Secretary Health Mr. Amit Mohan Prasad, Principal Secretary Chief Minister Mr. S. S. Goel, and Mr. Sanjay Prasad, Principal Secretary MSME Mr. Navneet Sehgal, Principal Secretary Rural Development and Panchayati Raj Mr. Manoj Kumar Singh, Principal Secretary Agriculture. Dr. Devesh Chaturvedi, Principal Secretary Animal Husbandry Mr. Bhuvanesh Kumar, Principal Secretary Food and Logistics Smt Nived Ta Shukla Verma, Chief Secretary Alok Kumar, Director Information other senior officials, including Mr. Shishir.



कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

Post Top Ad

Pages