Breaking News

मंगलवार, 5 मई 2020

लॉकडाउन का सख्ती से पालन कराने के निर्देश -मुख्यमंत्री योगी Instructions to strictly follow lockdown - CM Yogi

 लॉकडाउन का सख्ती से पालन कराने के निर्देश -मुख्यमंत्री योगी     Instructions to strictly follow lockdown - CM Yogi         संवाददाता, Journalist Anil Prabhakar.                 www.upviral24.in 

 उ0प्र0 राजस्व वृद्धि के लिए उद्योग - धन्धों को भारत सरकार की एडवायजरी के अनुरूप पूरे सुरक्षा प्रोटोकॉल के साथ संचालित कराया जाए 
लॉकडाउन का सख्ती से पालन कराने के निर्देश 
लॉकडाउन के कारण अन्य राज्यों से वापस न लौट पा रहे उ0प्र0 वासियों के आगमन तथा यहां निवासित अन्य राज्य के लोगों के प्रस्थान को सुगम बनाने के लिए जनसुनवाई पोर्टल पर पंजीकरण की सुविधा उपलब्ध कराना सराहनीय प्रयास 
उ0प्र0 में वायुमार्ग से देश वापस आने वाले लोगों को क्वारंटीन करने की सुचारू व्यवस्था की जाए , लखनऊ , वाराणसी तथा हिण्डन एयरपोर्ट पर मेडिकल स्क्रीनिंग के प्रबन्ध सुनिश्चित किए जाए 
राज्य कोरोना सहायता कॉल सेन्टर के टोल फ्री नम्बर 1800 - 180 - 5145 पर अन्य रोगों के लिए भी उपलब्ध चिकित्सीय परामर्श सेवा का व्यापक प्रचार - प्रसार किया जाए 
जिलाधिकारी यह सुनिश्चित करें कि क्वारंटीन सेन्टर / शेल्टर होम व कम्युनिटी किचन के लिए नियुक्त नोडल अधिकारी उन्हें व्यवस्थाओं की नियमित रिपोर्ट प्रस्तुत करें 
नई टेस्टिंग लैब की स्थापना के साथ ही , बायो - मेडिकल वेस्ट के निस्तारण की व्यवस्था भी सुनिश्चित की जाए 
पुलिस बल व मेडिकल टीम को कोरोना के संक्रमण से बचाने के लिए सभी सुरक्षा उपाय अपनाने पर बल 
मण्डियों में सोशल डिस्टेंसिंग का प्रत्येक दशा में पालन कराया जाए 
प्रवासी कामगारों / श्रमिकों को आर्थिक रूप से स्वावलम्बी बनाने के लिए इन्हें दुग्ध समितियों से जोड़ा जाए 
दुधारु पशुओं के खुरपका व मुंहपका टीकाकरण के लिए कार्ययोजना बनायी जाए 
प्रदेश में कोविड - 19 के मरीजों की रिकवरी की दर 33 प्रतिशत , जो रिकवरी की राष्ट्रीय औसत 27 प्रतिशत से 6 प्रतिशत अधिक 
लखनऊ : 06 मई , 2020 
उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने कहा है कि राजस्व वृद्धि के लिए भारत सरकार की एडवायजरी के अनुरूप उद्योग - धन्धों को पूरे सुरक्षा प्रोटोकॉल के साथ संचालित कराया जाए । यह सुनिश्चित किया जाए कि औद्योगिक गतिविधियों में सोशल डिस्टेंसिंग अपनाते हुए स्वास्थ्य विभाग के प्रोटोकॉल का पूरी तरह पालन हो । मुख्यमंत्री जी आज यहाँ लोक भवन में आहूत एक उच्चस्तरीय बैठक में लॉक डाउन व्यवस्था की समीक्षा कर रहे थे । उन्होंने कहा कि उद्योग - धन्धों को गति प्रदान करने के लिए आवश्यकतानुसार नीतियों में संशोधन पर विचार किया जाए । सिंगिल विंडो प्रणाली को मजबूती से लागू किया जाए । लेबर रिफॉर्म के लिए श्रम विभाग द्वारा कार्ययोजना तैयार की जाए । मुख्यमंत्री जी ने कहा कि लॉकडाउन के कारण अन्य राज्यों से वापस न लौट पा रहे उत्तर प्रदेशवासियों के आगमन तथा यहां निवासित अन्य राज्य के लोगों के प्रस्थान को सुगम बनाने के उद्देश्य से जनसुनवाई पोर्टल पर पंजीकरण की सुविधा उपलब्ध कराना एक सराहनीय प्रयास है । जनसुनवाई पोर्टल पर ऐसे लोगों ने पंजीकरण प्रारम्भ कर दिया है । उन्होंने इस सम्बन्ध में प्रभावी कार्यवाही के निर्देश दिए हैं । मुख्यमंत्री जी ने कहा कि आने वाले दिनों में विभिन्न देशों में फंसे भारत वासियों का आगमन प्रस्तावित है । उत्तर प्रदेश में वायुमार्ग से देश वापस आने वाले लोगों को क्वारंटीन करने की सुचारू व्यवस्था की जाए । लखनऊ तथा वाराणसी हवाई अड्डों के साथ - साथ हिण्डन एयरपोर्ट पर मेडिकल स्क्रीनिंग के प्रबन्ध सुनिश्चित किए जाए । मुख्यमंत्री जी ने कोविड अस्पतालों में सभी आवश्यक सुविधाएं मुहैया कराने के निर्देश दिए । उन्होंने कहा कि टेस्टिंग क्षमता में वृद्धि की जाए । डॉक्टरों व पैरामेडिकल स्टाफ के प्रशिक्षण कार्य में तेजी लायी जाए । राज्य कोरोना सहायता कॉल सेन्टर के टोल फ्री नम्बर 1800 - 180 - 5145 पर अन्य रोगों के लिए भी उपलब्ध चिकित्सीय परामर्श सेवा का व्यापक प्रचार - प्रसार किया जाए । चिकित्सालयों में बायो - मेडिकल वेस्ट के निस्तारण के समुचित प्रबन्ध पर बल देते हुए उन्होंने कहा कि मेडिकल संक्रमण को नियंत्रित करने के लिए यह  अत्यन्त आवश्यक है । उन्होंने निर्देश दिए कि नई टेस्टिंग लैब की स्थापना के साथ ही , वहां पर बायो - मेडिकल वेस्ट के निस्तारण की व्यवस्था भी सुनिश्चित की जाए । उन्होंने पुलिस बल व मेडिकल टीम को कोरोना के संक्रमण से बचाने के लिए सभी सुरक्षा उपाय अपनाने पर बल दिया । बैठक में मुख्यमंत्री जी को अवगत कराया गया कि प्रदेश में कोविड - 19 के मरीजों की रिकवरी की दर 33 प्रतिशत है । यह संख्या रिकवरी की राष्ट्रीय औसत 27 प्रतिशत से 6 प्रतिशत अधिक है । आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति , डोर स्टेप डिलीवरी तथा सप्लाई चेन की अद्यतन स्थिति की जानकारी प्राप्त करते हुए मुख्यमंत्री जी ने कहा कि लॉक डाउन के दौरान यह व्यवस्था सुचारू रूप से कार्य कर रही है । इसे आगे भी इसी तरह बेहतर ढंग से संचालित किया जाए , ताकि लोगों को कोई दिक्कत न हो । उन्होंने लॉकडाउन का सख्ती से पालन कराने के निर्देश दिए हैं । मुख्यमंत्री जी ने पर्याप्त संख्या में क्वारंटीन सेन्टर की स्थापना के निर्देश दिए हैं । उन्होंने कहा कि क्वारंटीन सेन्टर / शेल्टर होम में साफ - सफाई के अच्छे प्रबन्ध किए जाए । कम्युनिटी किचन के माध्यम से लोगों को गुणवत्तायुक्त भरपेट भोजन उपलब्ध कराया जाए । जिलाधिकारी यह सुनिश्चित करें कि क्यारंटीन सेन्टर / शेल्टर होम व कम्युनिटी किचन के लिए नियुक्त नोडल अधिकारी जिलाधिकारी को व्यवस्थाओं की नियमित रिपोर्ट प्रस्तुत करें । सभी जिलाधिकारी अपनी रिपोर्ट के द्वारा क्वारंटीन सेन्टर / शेल्टर होम तथा कम्युनिटी किचन की अद्यतन स्थिति से शासन को अवगत कराते रहें । मुख्यमंत्री जी ने कहा कि मण्डियों में समय सारणी बनाते हुए कार्य संचालित किया जाए , जिससे वहां भीड़ एकत्र न हो । मण्डियों में सोशल डिस्टेंसिंग का प्रत्येक दशा में पालन कराया जाए । साफ - सफाई की उत्तम व्यवस्था की जाए । यह सुनिश्चित कराया जाए कि लोग मास्क अथवा फेस कवर पहनकर ही आएं ।
 मुख्यमंत्री जी ने कहा कि प्रवासी कामगारों / श्रमिकों को आर्थिक रूप से स्वावलम्बी बनाने के लिए इन्हें दुग्ध समितियों से जोड़ा जाए । दुधारु पशुओं के खुरपका व मुंहपका टीकाकरण के लिए कार्ययोजना बनायी जाए । शहरी क्षेत्रों की झोपड़ पट्टियों व मलिन बस्तियों में रहने वाले लोगों को प्रधानमंत्री आवास योजना तथा अफोर्डेबिल हाउसिंग स्कीम के माध्यम से आवास उपलब्ध कराए जाएं । इस अवसर पर चिकित्सा शिक्षा मंत्री श्री सुरेश खन्ना , स्वास्थ्य मंत्री श्री जय प्रताप सिंह , स्वास्थ्य राज्यमंत्री श्री अतुल गर्ग , मुख्य सचिव श्री आर0के0 तिवारी , कृषि उत्पादन आयुक्त श्री आलोक सिन्हा , अवस्थापना एवं औद्योगिक विकास आयुक्त श्री आलोक टण्डन , अपर मुख्य सचिव सूचना एवं गृह श्री अवनीश कुमार अवस्थी , अपर मुख्य सचिव राजस्व श्रीमती रेणुका कुमार , अपर मुख्य सचिव वित्त श्री संजीव मित्तल , पुलिस महानिदेशक श्री हितेश सी० अवस्थी , प्रमुख सचिव चिकित्सा शिक्षा डॉ0 रजनीश दुबे , प्रमुख सचिव स्वास्थ्य श्री अमित मोहन प्रसाद , प्रमुख सचिव आयुष श्री प्रशान्त त्रिवेदी , प्रमुख सचिव मुख्यमंत्री श्री एस0पी0 गोयल एवं श्री संजय प्रसाद , प्रमुख सचिव एम०एस०एम०ई० श्री नवनीत सहगल , प्रमुख सचिव श्रम श्री सुरेश चन्द्रा , प्रमुख सचिव ग्राम्य विकास एवं पंचायतीराज श्री मनोज कुमार सिंह , प्रमुख सचिव खाद्य एवं रसद श्रीमती निवेदिता शुक्ला वर्मा , प्रमुख सचिव कृषि डॉ0 देवेश चतुर्वेदी , प्रमुख सचिव पशुपालन श्री भुवनेश कुमार , सचिव मुख्यमंत्री श्री आलोक कुमार , सूचना निदेशक श्री शिशिर सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे । 

For the growth of UP revenue, the industries - funds should be operated with complete security protocols as per the advisory of the Government of India.
Instructions to strictly follow lockdown
Commendable efforts to provide registration facility on Janusunwai portal to facilitate the arrival of UP residents not returning from other states due to lockdown and departure of people of other states residing here
In Uttar Pradesh, a smooth arrangement should be made to quarantine people coming back by air, to ensure the provision of medical screening at Lucknow, Varanasi and Hindan airports.
State Corona Assistance Call Center's toll-free number 1800 - 180 - 5145 for other diseases, medical counseling service also available should be widely publicized.
The District Magistrate should ensure that the nodal officers appointed for the Quarantine Center / Shelter Home and Community Kitchen submit regular reports of arrangements to them
With the establishment of a new testing lab, the system of disposal of bio-medical waste should also be ensured.
Force to adopt all security measures to protect the police force and medical team from corona infection
Social distancing in mandis should be followed in every case
To make the migrant workers/workers economically independent, they should be linked with milk societies
The action plan should be made for the hoarding and oral vaccination of milch animals
The rate of recovery of Covid-19 patients in the state is 33 percent, which is 6 percent more than the national average of 27 percent recovery
Lucknow: 06 May 2020

Uttar Pradesh Chief Minister Yogi Adityanath Ji has said that according to the advisory of the Government of India, revenue-generating industries should be run with complete safety protocols. It should be ensured that the protocol of the Health Department is fully followed by adopting social distancing in industrial activities. The Chief Minister was reviewing the lock-down system at a high-level meeting convened at Lok Bhawan here today. He said that in order to give impetus to the industries-businesses, revision in policies should be considered. A single window system should be strongly applied. The labor department should prepare an action plan for labor reform. The Chief Minister said that it is a commendable effort to provide the facility of registration on the Jansunwai portal with a view to facilitating the arrival of Uttar Pradesh residents not returning from other states due to the lockdown and the departure of people from other states residing here. Such people have started registration on the Jansunwai portal. He has given instructions for effective action in this regard. The Chief Minister said that the arrival of the people of India trapped in various countries is proposed in the coming days. In Uttar Pradesh, a smooth arrangement should be made to quarantine people coming back by air. Medical screening arrangements should be ensured at Lucknow and Varanasi airports as well as Hindon Airport. The Chief Minister directed to provide all necessary facilities in Covid hospitals. He said that testing capacity should be increased. The training of doctors and paramedical staff should be expedited. State Corona Assistance Call Center's toll-free number 1800 - 180 - 5145 should be widely publicized for the medical counseling service available for other diseases also. Stressing on the proper management of disposal of bio-medical waste in hospitals, he said that to control medical infection, it It is very important. He directed that along with the establishment of a new testing lab, the system of disposal of bio-medical waste should also be ensured there. He emphasized to the police force and medical team to adopt all safety measures to prevent corona infection. In the meeting, the Chief Minister was informed that the rate of recovery of Covid-19 patients in the state is 33 percent. This number is 6 percent higher than the national average of 27 percent recovery. On getting information about the supply status of essential goods, doorstep delivery, and the supply chain, the Chief Minister said that this system is working smoothly during lockdown. It should be further operated in a similar manner so that people do not face any problem. He has given instructions to strictly follow the lockdown. The Chief Minister has given instructions to establish a sufficient number of Quarantine Center. He said that good sanitation arrangements should be made in the Quarantine Center / Shelter Home. Provide quality food to the people through community kitchens. The District Magistrate should ensure that the nodal officer appointed for the Quarantine Center / Shelter Home and Community Kitchen submit regular reports of arrangements to the District Magistrate. All the District Magistrates should keep the government informed about the latest status of the Quarantine Center / Shelter Home and Community Kitchen through their report. The Chief Minister said that work should be conducted by making time table in the mandis, so that the crowd does not gather there. Social distancing in mandis should be followed in every case. Good arrangements should be made for cleanliness. It should be ensured that people come wearing only masks or face covers.
 The Chief Minister said that to make the migrant workers/laborers economically independent, they should be linked with the milk societies. An action plan should be made for the hoarding and oral vaccination of milch animals. Housing to people living in slums and slums of urban areas should be provided through the Pradhan Mantri Awas Yojana and Affordable Housing Scheme. On this occasion, Medical Education Minister Mr. Suresh Khanna, Health Minister Mr. Jai Pratap Singh, Minister of State for Health Mr. Atul Garg, Chief Secretary Mr. RK Tiwari, Agriculture Production Commissioner Mr. Alok Sinha, Infrastructure and Industrial Development Commissioner Mr. Alok Tandon, Additional Chief Secretary Information and Home Shri Avnish Kumar Awasthi, Additional Chief Secretary Revenue Mrs. Renuka Kumar, Additional Chief Secretary Finance Mr. Sanji And Mittal, Director General of Police Mr. Hitesh C. Awasthi, Principal Secretary Medical Education Dr. Rajneesh Dubey, Principal Secretary Health Mr. Amit Mohan Prasad, Principal Secretary Ayush Mr. Prashant Trivedi, Principal Secretary Chief Minister Mr. SP Goel and Mr. Sanjay Prasad, Principal Secretary MSME Mr. Navneet Sehgal , Principal Secretary Labor Mr. Suresh Chandra, Principal Secretary Rural Development and Panchayati Raj Mr. Manoj Kumar Inh, Principal Secretary Food and Civil Supplies Mrs Nivedita Shukla Verma, Principal Secretary Agriculture Dr 0 Devesh Chaturvedi, Principal Secretary Animal Husbandry Mr. Bhuvnesh Kumar, Chief Secretary Alok Kumar, Director Information other senior officials, including Mr. Shishir.





कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

Post Top Ad

Pages