Breaking News

शुक्रवार, 8 मई 2020

मुख्यमंत्री ने राजस्व विभाग के राहत आयुक्त कार्यालय द्वारा तैयार किए गये ‘प्रवासी राहत मित्र एप’ का लोकार्पण किया Chief Minister inaugurated 'Pravasi Rahat Mitra App' prepared by Relief Commissioner Office of Revenue Department

मुख्यमंत्री ने राजस्व विभाग के राहत आयुक्त कार्यालय द्वारा तैयार किए गये ‘प्रवासी राहत मित्र एप’ का लोकार्पण किया Chief Minister inaugurated 'Pravasi Rahat Mitra App' prepared by Relief Commissioner Office of Revenue Department  संवाददाता, Journalist Anil Prabhakar.                 www.upviral24.in

मुख्यमंत्री ने राजस्व विभाग के राहत आयुक्त कार्यालय द्वारा तैयार किए गये ‘प्रवासी राहत मित्र एप’ का लोकार्पण किया Chief Minister inaugurated 'Pravasi Rahat Mitra App' prepared by Relief Commissioner Office of Revenue Department  संवाददाता, Journalist Anil Prabhakar.                 www.upviral24.in


उ0प्र0 मुख्यमंत्री ने राजस्व विभाग के राहत आयुक्त कार्यालय द्वारा तैयार किए गये प्रवासी राहत मित्र एप ' का लोकार्पण किया यह एप यूनाइटेड नेशन्स डेवलपमेंट प्रोग्राम के सहयोग से विकसित एप का उद्देश्य प्रवासी नागरिकों को सरकारी योजना का लाभ , उनके स्वास्थ्य की निगरानी एवं उनके कौशल के लायक नौकरी एवं आजीविका प्रदान करने में सहयोग के लिए डेटा कलेक्शन करना लखनक : 08 मई , 2020 उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने आज यहां लोक भवन में राजस्व विभाग के राहत आयुक्त कार्यालय द्वारा तैयार किए गये ' प्रवासी राहत मित्र एप ' का लोकार्पण किया । यह एप यू०एन0डी0पी0 ( यूनाइटेड नेशन्स डेवलपमेंट प्रोग्राम ) के सहयोग से विकसित किया गया है । इस एप का उद्देश्य अन्य प्रदेशों से उत्तर प्रदेश में आने वाले प्रवासी नागरिकों को सरकारी योजना का लाभ , उनके स्वास्थ्य की निगरानी एवं विशेष कर उनके कौशल के लायक भविष्य में नौकरी एवं आजीविका प्रदान करने में सहयोग करने हेतु इन प्रवासी नागरिकों का डेटा कलेक्शन करना है । सरकार के विभिन्न विभागों द्वारा आपस में सूचना का आदान - प्रदान कर इन प्रवासी नागरिकों के रोजगार एवं आजीविका हेतु नियोजन एवं कार्यक्रम बनाने में मदद मिलेगी । इस एप के द्वारा , आश्रय केन्द्र में रुके हुए व्यक्तियों एवं किसी भी कारणवश अन्य प्रदेशों से सीधे अपने घरों को पहुंचने वाले प्रवासी व्यक्तियों का पूरा विवरण लिया जायेगा ताकि उत्तर प्रदेश में आने वाले कोई भी प्रवासी छूट न पाए । एप में व्यक्ति की मूलभूत जानकारी जैसे कि नाम , शैक्षिक योग्यता , अनुभव , अस्थायी और स्थायी पता , बैंक अकाउंट विवरण , कोविड - 19 सम्बन्धी स्क्रीनिंग की स्थिति , 65 से भी ज्यादा प्रकार के कौशल का विवरण एकत्र किया जायेगा । अन्य राज्यों से प्रदेश में आ रहे प्रवासी नागरिकों को दी जाने वाली राशन किट के वितरण की स्थिति भी एप में दर्ज की जायेगी ।   
इस एप मे डाटा डुप्लीकेशन न हो , इसके लिये यूनीक मोबाइल नम्बर को आधार बनाया जायेगा । इस एप की एक अन्य विशेषता यह भी है कि इसमें ऑनलाइन के साथ - साथ ऑफलाइन भी काम कर सकते हैं । इसके अतिरिक्त , प्रभावी निर्णय लेने के लिए ग्रामीण और शहरी क्षेत्रों के लोगों के डेटा को भी एप में अलग - अलग किया जा सकता है । डेटा संग्रह का कार्य शीघ्र सम्पादित हो सके , इसके लिये विकेन्द्रीकृत स्तर पर यथा आश्रय स्थल , ट्रांजिट पॉइंट , व्यक्ति के निवास स्थान पर डेटा संग्रह किया जायेगा । जिलाधिकारी के नेतृत्व में डेटा संग्रह की जिम्मेदारी शहरी क्षेत्र में नगर विकास विभाग / नगर निकाय की तथा ग्रामीण क्षेत्र में सी0डी0ओ0 / पंचायती राज विभाग की होगी । एप के माध्यम से संग्रहित डेटा को राज्य स्तर पर स्थापित इंटीग्रेटेड इन्फॉर्मेशन मैनेजमेंट सिस्टम ( www.rahatup.in ) पर स्टोर किया जायेगा तथा इसका विश्लेषण कर प्रवासी नागरिकों को सरकारी योजना का लाभ , उनके स्वास्थ्य की निगरानी एवं विशेष कर उनके कौशल के लायक भविष्य में नौकरी एवं आजीविका प्रदान करने में सहयोग किया जायेगा । इस अवसर पर चिकित्सा शिक्षा मंत्री श्री सुरेश खन्ना , स्वास्थ्य मंत्री श्री जय प्रताप सिंह , स्वास्थ्य राज्यमंत्री श्री अतुल गर्ग , मुख्य सचिव श्री आर0के0 तिवारी , कृषि उत्पादन आयुक्त श्री आलोक सिन्हा , अवस्थापना एवं औद्योगिक विकास आयुक्त श्री आलोक टण्डन , अपर मुख्य सचिव सूचना एवं गृह श्री अवनीश कुमार अवस्थी , अपर मुख्य सचिव राजस्व श्रीमती रेणुका कुमार , अपर मुख्य सचिव वित्त श्री संजीव मित्तल , पुलिस महानिदेशक श्री हितेश सी0 अवस्थी , प्रमुख सचिव स्वास्थ्य श्री अमित मोहन प्रसाद , प्रमुख सचिव मुख्यमंत्री श्री एस0पी0 गोयल तथा श्री संजय प्रसाद , प्रमुख सचिव एम०एस०एम०ई० श्री नवनीत सहगल , प्रमुख सचिव खाद्य एवं रसद श्रीमती निवेदित शुक्ला वर्मा , प्रमुख सचिव ग्राम्य विकास एवं पंचायतीराज श्री मनोज कुमार सिंह , प्रमुख सचिव कृषि डॉ0 देवेश चतुर्वेदी , प्रमुख सचिव पशुपालन श्री भुवनेश कुमार , सचिव मुख्यमंत्री श्री आलोक कुमार , सूचना निदेशक श्री शिशिर सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे ।

Uttar Pradesh Chief Minister inaugurated 'Pravasi Rahat Mitra App' prepared by Relief Commissioner Office of Revenue Department. Collecting data for cooperation in providing jobs and livelihoods worth: May 08, 2020, in Uttar Pradesh Kyamntri Adityanath G inaugurated here today Relief Department of Revenue Public buildings were designed by the Commissioners' overseas relief More App. This app has been developed in collaboration with the UNDP (United Nations Development Program). The purpose of this app is to collect data of these migrant citizens to help migrant citizens coming to Uttar Pradesh from other states to benefit in the government scheme, monitoring their health and providing jobs and livelihood especially in the future for their skills. The exchange of information by various departments of the government will help in planning and programs for the employment and livelihood of these migrant citizens. Through this app, full details will be taken of the persons staying in the shelter center and the migrants who reach their homes directly from other states for any reason, so that no migrants coming to Uttar Pradesh are exempted. Basic information of the person such as name, educational qualification, experience, temporary and permanent address, bank account details, screening status of Kovid-19, details of more than 65 types of skills will be collected in the app. The status of distribution of ration kits to migrant citizens coming from other states to the state will also be registered in the app.
In this app, there will be no data duplication, for this, the unique mobile number will be made the basis. Another feature of this app is that it can work online as well as offline. Additionally, data from people in rural and urban areas can also be separated into apps to make effective decisions. Data collection will be done at the decentralized levels, such as the shelter site, transit point, the residence of the person, so that data collection can be executed quickly. The responsibility of data collection under the leadership of the District Magistrate will be with the Urban Development Department / Municipal Body in the urban area and the CDO / Panchayati Raj Department in the rural area. The data collected through the app will be stored on the Integrated Information Management System (www.Rahatup.In), established at the state level, and by analyzing this, the benefits of the government scheme to the expatriate citizens, monitoring their health and especially their skills worth the future. Cooperation will be provided in providing jobs and livelihood. On this occasion, Medical Education Minister Mr. Suresh Khanna, Health Minister Mr. Jai Pratap Singh, Minister of State for Health Mr. Atul Garg, Chief Secretary Mr. RK Tiwari, Agriculture Production Commissioner Mr. Alok Sinha, Infrastructure and Industrial Development Commissioner Mr. Alok Tandon, Additional Chief Secretary Information and Home Shri Avnish Kumar Awasthi, Additional Chief Secretary Revenue Mrs. Renuka Kumar, Additional Chief Secretary Finance Mr. Sanji And Mittal, Director General of Police Mr. Hitesh C. Awasthi, Principal Secretary Health Mr. Amit Mohan Prasad, Principal Secretary Chief Minister Mr. SP Goel and Mr. Sanjay Prasad, Principal Secretary MSME Mr. Navneet Sehgal, Principal Secretary Food and Logistics Mrs. Nivedit Shukla Verma, Principal Secretary Rural Development And Panchayati Raj Mr. Manoj Kumar Singh, Principal Secretary Agriculture Dr. Devesh Chaturvedi, Principal Secretary Animal Husbandry Shri Bhuvanesh Kumar, Secretary to Chief Minister Mr. Alok Kumar, Director of Information Shri Shishir and other senior officials were present.   




कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

Post Top Ad

Pages