Breaking News

गुरुवार, 23 अप्रैल 2020

उoप्रo: मुख्यमंत्री योगी ने लॉकडाउन का कड़ाई से पालन सुनिश्चित करने के निर्देश दिये UP: Chief Minister Yogi gave instructions to ensure strict adherence to lockdown

मुख्यमंत्री योगी ने लॉकडाउन का कड़ाई से पालन सुनिश्चित करने के निर्देश दिये  Chief Minister Yogi gave instructions to ensure strict adherence to lockdown   उ0प्र0: मुख्यमंत्री योगी ने लॉकडाउन का कड़ाई से पालन सुनिश्चित करने के निर्देश दिये   UP: Chief Minister Yogi gave instructions to ensure strict adherence to lockdown        संवाददाता, Journalist Anil Prabhakar.                 www.upviral24.in

उ0प्र0 मुख्यमंत्री ने लॉकडाउन का कड़ाई से पालन सुनिश्चित कराने के निर्देश दिये जिलाधिकारी तथा पुलिस अधीक्षक सहित फील्ड में तैनात समी प्रशासनिक एवं पुलिस अधिकारी मण्डी तथा घनी आबादी वाले क्षेत्रों में नियमित पेट्रोलिंग करें 20 या उससे अधिक कोरोना पॉजिटिव केस वाले जनपदों में वरिष्ठ प्रशासनिक , पुलिस तथा वरिष्ठ स्वास्थ्य अधिकारी को भेजने के निर्देश क्वारंटीन सेन्टरों में सोशल डिस्टेंसिंग का विशेष ध्यान रखते हुए पूरी सावधानी और सतर्कता बरती जाए क्वारंटीन सेन्टर तथा आइसोलेशन वॉर्ड की संख्या तथा टेस्टिंग की क्षमता को बढ़ाने के निर्देश 01 मई , 2020 से प्रारम्भ होने वाले खाद्यान्न वितरण कार्यक्रम में यह सुनिश्चित किया जाए कि पुराने राशन कार्ड धारकों के साथ - साथ नये राशन कार्ड धारकों को भी राशन उपलब्ध हो शेल्टर होम में रह रहे लोगों का पूल टेस्ट कराया जाए टेलीमेडिसिन के माध्यम से चिकित्सा परामर्श उपलब्ध कराने वाले डॉक्टरों की टेलीफोन नम्बर युक्त सूची का व्यापक प्रचार - प्रसार किया जाए अप्रभावित जनपदों में औद्योगिक इकाइयां सोशल डिस्टेंसिंग अपनाते हुए निर्धारित प्रोटोकॉल के अनुरूप कार्य करें प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के माध्यम से 02 करोड़ से अधिक किसानों को 4 , 100 करोड़ रु0 की मदद लखनऊ : 29 अप्रैल , 2020 उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने लॉकडाउन का कड़ाई से पालन सुनिश्चित कराने के निर्देश दिये हैं । उन्होंने कहा कि जिलाधिकारी तथा पुलिस अधीक्षक सहित फील्ड में तैनात सभी प्रशासनिक एवं पुलिस अधिकारी मण्डी तथा घनी आबादी वाले क्षेत्रों में नियमित पेट्रोलिंग करें । यह सुनिश्चित किया जाए कि आवश्यक सामग्री की सप्लाई चैन से जुड़े वाहन छूट का दुरुपयोग न करने पायें । यह चेतावनी जारी की जाए कि जो भी ट्रक सवारी ढोते पाया जाएगा उसे तत्काल जब्त कर लिया जाएगा ।  
मुख्यमंत्री जी आज यहां लोक भवन में आहूत एक उच्चस्तरीय बैठक में लॉकडाउन व्यवस्था की समीक्षा कर रहे थे । मुख्यमंत्री जी ने कहा कि क्वारंटीन सेन्टरों में सोशल डिस्टेंसिंग का विशेष ध्यान रखते हुए पूरी सावधानी और सतर्कता बरती जाए । उन्होंने क्वारंटीन सेन्टर तथा आइसोलेशन वॉर्ड की संख्या तथा टेस्टिंग की क्षमता को बढ़ाने के निर्देश दिये हैं । मुख्यमंत्री जी ने 20 या उससे अधिक कोरोना पॉजिटिव केस वाले जनपदों में वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारी तथा वरिष्ठ स्वास्थ्य अधिकारी को भेजने के निर्देश दिये हैं । यह अधिकारी सम्बन्धित जनपद में कम से कम एक सप्ताह कैम्प कर वहां संचालित स्वास्थ्य सहित विभिन्न कार्यों का पर्यवेक्षण करेंगे । उन्होंने ऐसे प्रत्येक जनपद में आई0जी0 स्तर के एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ( जहां पहले से आई0जी0 स्तर के अधिकारी की तैनाती नहीं है ) को भी भेजने के निर्देश दिये हैं । यह पुलिस अधिकारी आवंटित जनपद में लॉकडाउन व्यवस्था को और प्रभावी ढंग से लागू कराएंगे तथा अपनी रिपोर्ट भी प्रेषित करेंगे । मुख्यमंत्री जी ने कम्युनिटी किचन , डोर स्टेप डिलीवरी तथा खाद्यान्न वितरण की नवीनतम स्थिति की जानकारी प्राप्त की । उन्होंने कहा कि 01 मई , 2020 से प्रारम्भ होने वाले खाद्यान्न वितरण कार्यक्रम में यह सुनिश्चित किया जाए कि पुराने राशन कार्ड धारकों के साथ - साथ नये राशन कार्ड धारकों को भी राशन उपलब्ध हो । प्रमुख सचिव खाद्य एवं रसद द्वारा अवगत कराया गया कि अन्त्योदय कार्ड धारकों को प्रति कार्ड 20 किलो गेहूं तथा 15 किलो चावल तथा अन्य श्रेणी के लाभार्थियों यथा मनरेगा श्रमिक , पंजीकृत निर्माण श्रमिक , ठेला , खोमचा लगाने वाले , रिक्शा , ई - रिक्शा चलाने वालों आदि को प्रति यूनिट 03 किलो गेहूं तथा 02 किलो चावल उपलब्ध कराया जाएगा । मुख्यमंत्री जी ने निर्देश दिये कि शेल्टर होम तथा कम्युनिटी किचन को नियमित तौर पर सेनेटाइज किया जाए । शेल्टर होम में रह रहे लोगों का पूल टेस्ट कराया जाए । यह सुनिश्चित किया जाए कि कम्युनिटी किचन का भोजन गुणवत्तापरक हो तथा भोजन पर्याप्त मात्रा में तैयार किया जाए । मुख्यमंत्री जी ने कहा कि प्रदेश सरकार द्वारा ' मुख्यमंत्री का पीड़ित सहायता कोष - कोविड केयर फण्ड ' स्थापित किया गया है । इस फण्ड की धनराशि का उपयोग कोविड - 19 के उपचार व बचाव के लिए किया जाएगा । फण्ड की धनराशि से टेस्टिंग , एल - 1 , एल - 2 तथा एल - 3 अस्पतालों की स्थापना एवं सुदृढीकरण , लॉजिस्टिक्स यथा पी0पी0ई0 किट , एन - 95 मास्क , वेंटिलेटर्स आदि की व्यवस्था की जाए । फण्ड की धनराशि से पी0पी0ई0 क्रय करते हुए , इमरजेंसी सेवाएं प्रारम्भ करने वाले अस्पतालों को जिलाधिकारी के माध्यम से इन्हें उपलब्ध कराया जाए । उन्होंने संक्रमण से सबसे अधिक प्रभावित जनपदों में पी0पी0ई0 तथा एन - 95 मास्क प्राथमिकता पर उपलब्ध कराने के निर्देश भी दिये । मुख्यमंत्री जी ने टेलीमेडिसिन व्यवस्था को सुदृढ़ बनाने के निर्देश दिये । उन्होंने कहा कि इसके माध्यम से लोगों को उपचार सम्बन्धी परामर्श उपलब्ध कराने वाले डॉक्टरों की टेलीफोन नम्बर युक्त सूची का व्यापक प्रचार - प्रसार किया जाए , जिससे लोगों को घर बैठे चिकित्सीय परामर्श मिल सके । उन्होंने कहा कि यह सुनिश्चित किया जाए कि इमरजेंसी सेवा प्रदान करने वाले अस्पताल स्वास्थ्य विभाग के प्रोटोकॉल के अनुरूप कार्य करें । मुख्यमंत्री जी ने गेहूं खरीद तथा विभिन्न कृषि गतिविधियों की जानकारी प्राप्त की । अधिकारियों द्वारा अवगत कराया गया कि 4 , 000 से अधिक केन्द्रों पर गेहूं खरीद शुरु हो गयी है । अब तक मण्डियों व क्रय केन्द्रों के माध्यम से लगभग 36 लाख कुन्टल से अधिक गेहूं की खरीद हो चुकी है । उवर्रक के 53 , 000 पेस्टीसाइड के 37 , 000 तथा बीज के 36 , 000 सेल प्वाइंट संचालित हो रहे हैं । जायद फसल के तहत 8 . 12 लाख हेक्टेयर भूमि में बुआई हो गयी है । मेंथा फसल की बुआई लगभग 02 लाख हेक्टेयर क्षेत्रफल में हो चुकी है । मनरेगा  के अन्तर्गत भारत सरकार से 1 , 227 करोड़ रुपये की धनराशि प्राप्त हुई है । इससे मनरेगा योजना के कार्यों को गति मिलेगी । प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के माध्यम से प्रदेश के 02 करोड़ से अधिक किसानों को 4 , 100 करोड़ रुपये की मदद प्रदान की गयी है । मुख्यमंत्री जी ने नोडल अधिकारियों द्वारा किये जा रहे कार्यों की जानकारी प्राप्त करते हुए निर्देश दिये कि समस्त नोडल अधिकारी फोन पर उपलब्ध रहते हुए लोगों की दिक्कतों को सुनें एवं उनका समाधान कराएं । उन्होंने कहा कि कोरोना से अप्रभावित जनपदों में केन्द्र सरकार के दिशा - निर्देशों के अनुरूप औद्योगिक इकाइयों का संचालन कराया जाए । यह सुनिश्चित किया जाए कि औद्योगिक इकाइयां सोशल डिस्टेंसिंग अपनाते हुए निर्धारित प्रोटोकॉल के अनुरूप कार्य करें । थर्मल स्कैनर से कार्मिकों की नियमित स्क्रीनिंग की जाए । कामगारों के रहने व भोजन आदि की व्यवस्था इकाई के परिसर में ही हो । इस अवसर पर स्वास्थ्य मंत्री श्री जय प्रताप सिंह , मुख्य सचिव श्री आर0के0 तिवारी , कृषि उत्पादन आयुक्त श्री आलोक सिन्हा , अवस्थापना एवं औद्योगिक विकास आयुक्त श्री आलोक टण्डन , अपर मुख्य सचिव सूचना एवं गृह श्री अवनीश कुमार अवस्थी , अपर मुख्य सचिव वित्त श्री संजीव कुमार मित्तल , अपर मुख्य सचिव राजस्व श्रीमती रेणुका कुमार , पुलिस महानिदेशक श्री हितेश सी0 अवस्थी , प्रमुख सचिव चिकित्सा शिक्षा डॉ० रजनीश दुबे , प्रमुख सचिव स्वास्थ्य श्री अमित मोहन प्रसाद , प्रमुख सचिव मुख्यमंत्री श्री एस०पी० गोयल एवं श्री संजय प्रसाद , प्रमुख सचिव औद्योगिक विकास श्री आलोक कुमार , प्रमुख सचिव एम०एस०एम०ई० श्री नवनीत सहगल , प्रमुख सचिव खाद एवं रसद श्रीमती निवेदिता शुक्ला वर्मा , प्रमुख सचिव कृषि डॉ0 देवेश चतुर्वेदी , सूचना निदेशक श्री शिशिर सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे ।   

Uttar Pradesh Chief Minister directed to ensure strict observance of the lockdown; District Administrative Officer and Superintendent of Police along with Samee Administrative and Police Officers posted in the field and do regular patrolling in densely populated areas Senior Administrative, Police in districts with 20 or more Corona positive cases And instructions to send senior health officers in social centers in quarantine centers Special care should be exercised with special attention to staining. Instructions to increase the number and testing capacity of the quarantine center and isolation ward should be ensured in the food distribution program starting from May 01, 2020, with the old ration cardholders. - The ration should also be available to the new ration cardholders. The pool of people living in a shelter home should be telemed. The list of doctors with telephone numbers providing medical consultation through SIN should be widely disseminated. Industrial units in unaffected districts should adopt social distancing and work as per the laid down protocol. More than 02 crore farmers through Pradhan Mantri Kisan Samman Nidhi Yojana 4, 100 crore help to Lucknow: April 29, 2020, Uttar Pradesh Chief Minister Yog Aditya ji instructed to ensure strict adherence to the lockdown. He said that all the administrative and police officers posted in the field including the District Magistrate and Superintendent of Police should do regular petrol in the Mandi and densely populated areas. It should be ensured that vehicles connected with the supply chain of essential materials are not misused. A warning should be issued that whoever is found carrying a truck will be immediately seized.
The Chief Minister was reviewing the lockdown system at a high-level meeting convened at Lok Bhawan here today. The Chief Minister said that full care and vigilance should be exercised with special attention to social distancing in the quarantine centers. He has instructed us to increase the number of quarantine centers and isolation ward and the capacity of testing. The Chief Minister has given instructions to send senior administrative officers and senior health officers to districts with 20 or more corona positive cases. This officer will camp in the concerned district for at least one week and supervise various works including health. He has also directed to send a senior police officer of IG level (where there is no deployment of IG level officer already) in each such district. These police officers will implement the lockdown system in the allocated district more effectively and will also send their report. The Chief Minister received information about the latest status of the community kitchen, doorstep delivery, and food distribution. He said that in the food distribution program starting from May 1, 2020, it should be ensured that ration is available to the old ration card holders as well as the new ration cardholders. Principal Secretary Food and Logistics was informed that the holders of Antyodaya card 20 kg wheat and 15 kg rice per card and other category beneficiaries like MNREGA laborers, registered construction workers, carts, haulers, rickshaws, e-rickshaw pullers, etc. 03 kg wheat and 02 kg rice will be made available per unit. The Chief Minister directed that the shelter home and community kitchen should be regularly sanitized. The pool of people living in shelter homes Be tested. It should be ensured that the food of the community kitchen is quality and food is prepared in sufficient quantity. The Chief Minister said that 'Chief Minister's Victim Assistance Fund - Covid Care Fund' has been established by the State Government. The funds of this fund will be used for the treatment and prevention of Covid-19. Funding funds should be provided for testing, setting up and strengthening of L-1, L-2 and L-3 hospitals, logistics such as PPE kits, N-95 masks, ventilators, etc. While purchasing PPE from the funds of the fund, the hospitals starting emergency services should be made available through the District Magistrate. He also gave instructions to make PPE and N-95 masks on a priority basis in districts most affected by the infection. The Chief Minister instructed to strengthen the telemedicine system. He said that through this, the list of doctors with telephone numbers for providing treatment-related counseling to the people should be widely publicized so that people can get medical counseling from home. He said that it should be ensured that hospitals providing emergency services function as per the protocol of the Health Department. The Chief Minister received information about wheat procurement and various agricultural activities. Officials were informed that wheat procurement has started at more than 4,000 centers. So far, more than 36 lakh quintals of wheat have been procured through mandis and purchasing centers. 53, 000 pesticide 37, 000 and 36, 000 cell points of seed are being operated. 8. Under Zayed, crop sowing has been done in 12 lakh hectares of land. Mentha crop has been sown in an area of ​​about 2 million hectares. An amount of Rs.1,227 crore has been received from the Government of India under MNREGA. This will accelerate the works of MNREGA scheme. Through the Pradhan Mantri Kisan Samman Nidhi Yojana, more than Rs. 4, 100 crores has been provided to more than 02 crore farmers of the state. On receiving information about the work being done by the nodal officers, the Chief Minister gave instructions that all the nodal officers should listen to the problems of the people while being available on the phone and get them resolved. He said that industrial units should be operated in districts unaffected by Corona as per the guidelines of the Central Government. It should be ensured that industrial units adopt social distancing and work as per the laid down protocol. Regular screening of personnel should be done with thermal scanners. Workers' accommodation and food etc. should be arranged in the premises of the unit itself. On this occasion, Health Minister Shri Jai Pratap Singh, Chief Secretary Mr. RK Tiwari, Agriculture Production Commissioner Mr. Alok Sinha, Infrastructure and Industrial Development Commissioner Mr. Alok Tandon, Additional Chief Secretary Information and Home Mr. Avnish Kumar Awasthi, Additional Chief Secretary Finance Mr. Sanjeev Kumar Mittal, Additional Chief Secretary Revenue Mrs. Renuka Kumar, Director General of Police Mr. Hitesh C. Awasthi, Principal Secretary Medical Education Dr. Rajneesh Dubey, Principal Secretary Health Mr. Amit Mohan Prasad, Principal Secretary Chief Minister Mr. SP Goel and Mr. Sanjay Prasad, Principal Secretary Industrial Development Mr. Alok Kumar, Principal Secretary MSME Mr. Navneet Sehgal, Principal Secretary Fertilizer and Logistics Mrs. Nivedita Shukla Verma, Head Secretary Agriculture Dr. Devesh Chaturvedi, Director of Information Shri Shishir and other senior officials were present.


कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

Post Top Ad

Pages