Breaking News

मंगलवार, 28 अप्रैल 2020

मुख्यमंत्री योगी ने लॉकडाउन का सख्ती से पालन कराने के निर्देश दिये Chief Minister Yogi directed to strictly follow the lockdown

मुख्यमंत्री योगी ने लॉकडाउन का सख्ती से पालन कराने के निर्देश दिये    Chief Minister Yogi directed to strictly follow the lockdown      संवाददाता, Journalist Anil Prabhakar.                 www.upviral24.in

उ0प्र0 मुख्यमंत्री योगी ने लॉकडाउन का सख्ती से पालन कराने के निर्देश दिये कोरोना संक्रमण की प्रत्येक चेन को तोड़ना है : मुख्यमंत्री जिलाधिकारी एवं मुख्य चिकित्साधिकारी एल - 1 . एल - 2 तथा एल - 3 कोविड चिकित्सालयों , शेल्टर होम व क्वारंटीन सेन्टर का निरीक्षण करें सैम्पल लेने वालों को प्रोटोकॉल के अनुरूप प्रशिक्षण प्रदान किया जाए ग्रीन जोन तथा ओरेंज जोन में अनुमन्य की जाने वाली गतिविधियों के लिए कार्य योजना बनायी जाए जनपद वाराणसी , हापुड़ , रामपुर , मुजफ्फरनगर तथा अलीगढ़ में वरिष्ठ प्रशासनिक , पुलिस एवं स्वास्थ्य अधिकारी भेजे जाएं प्रत्येक जनपद में 16 , 000 से 25 , 000 क्षमता के क्वारंटीन सेण्टर तथा आश्रय स्थल की व्यवस्था सुनिश्चित की जाए महिला स्वयं सहायता समूहों को मास्क आदि के निर्माण कार्य से जोड़ा जाए प्रयागराज से वापस भेजे जा रहे प्रतियोगी छात्र - छात्राओं का स्वास्थ्य परीक्षण कराया जाए निराश्रित गोवंश के लिए गोवंश आश्रय स्थलों पर भूसा बैंक स्थापित किया जाए टेस्टिंग क्षमता में वृद्धि के दृष्टिगत वैश्विक स्तर पर टेक्नोलॉजी प्राप्त करने पर विचार किया जाए बायो - मेडिकल वेस्ट का उचित निस्तारण सुनिश्चित करने के निर्देश 3 मई , 2020 के पश्चात औद्योगिक इकाइयों को किस प्रकार शुरु किया जाए , इसके लिए कार्य योजना तैयार की जाए लखनऊ : 28 अप्रैल , 2020 उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने लॉकडाउन का सख्ती से पालन कराने के निर्देश दिये हैं । उन्होंने कहा है कि सोशल डिस्टेंसिंग पर विशेष ध्यान दिया जाए । पुलिस द्वारा नियमित तौर पर पेट्रोलिंग की जाए । यह भी सुनिश्चित किया जाए कि हॉटस्पाट क्षेत्रों में केवल स्वास्थ्य , सफाई तथा होम डिलीवरी से जुड़े कर्मी ही जाएं । हॉटस्पाट क्षेत्रों में सभी घरों को सेनेटाइज किया जाए । मुख्यमंत्री जी आज यहां लोक भवन में आहूत एक उच्चस्तरीय बैठक में लॉकडाउन व्यवस्था की समीक्षा कर रहे थे । उन्होंने कहा कि प्रयागराज से वापस भेजे जा रहे प्रतियोगी छात्र - छात्राओं का स्वास्थ्य परीक्षण कराया जाए । जनपद वाराणसी , हापुड़ , रामपुर , मुजफ्फरनगर तथा अलीगढ़ में वरिष्ठ प्रशासनिक , पुलिस एवं स्वास्थ्य अधिकारी भेजे जाएं । उन्होंने कहा कि ग्रीन जोन तथा ओरेंज जोन में अनुमन्य की जाने वाली गतिविधियों के लिए एक कार्य योजना बनायी जाए । महिला स्वयं सहायता समूहों को मास्क आदि के निर्माण कार्य से जोड़ा जाए । मरया मुख्यमंत्री जी ने निर्देश दिये कि प्रत्येक जनपद में 15 , 000 से 25 , 000 क्षमता के क्वारंटीन सेण्टर तथा आश्रय स्थल की व्यवस्था सुनिश्चित की जाए । शेल्टर होम में 14 दिन की संस्थागत क्वारंटीन पूरा करने वालों का चिकित्सीय परीक्षण कराके होम क्वारंटीन के लिए घर भेजा जाए । मेडिकल टेस्टिंग के लिए पूल टेस्टिंग व रैण्डम टेस्टिंग का उपयोग किया जाए । जिलाधिकारी एवं मुख्य चिकित्साधिकारी एल - 1 , एल - 2 तथा एल - 3 कोविड चिकित्सालयों , शेल्टर होम व क्वारंटीन सेन्टर का निरीक्षण करें । शेल्टर होम व क्वारंटीन सेन्टर की फूडिंग लॉजिंग व्यवस्था पर नजर रखी जाए । उन्होंने कहा कि शेल्टर होम को जियो टैग किया जाए । मुख्यमंत्री जी ने कहा कि एल - 1 , एल - 2 अस्पतालों में ऑक्सीजन की सुचारु व्यवस्था सुनिश्चित करायी जाए । एल - 1 श्रेणी के कोविड अस्पतालों की संख्या में वृद्धि की जाए । एल - 3 कोविड अस्पतालों में बेड्स बढ़ाये जाएं । सभी चिकित्सालयों में पी0पी0ई0 किट तथा एन - 95 मास्क की सुचारु उपलब्धता सुनिश्चित की जाए । कोविड - 19 के रोगियों के उपचार के लिए प्लाज्मा थेरेपी को बढ़ावा दिया जाए । टेस्टिंग क्षमता में वृद्धि की जाए । सभी टेस्टिंग लैब्स में पूल टेस्टिंग की व्यवस्था उपलब्ध करायी जाए । सैम्पल लेने वालों को प्रोटोकॉल के अनुरूप प्रशिक्षण प्रदान किया जाए । टेस्टिंग क्षमता में वृद्धि के दृष्टिगत वैश्विक स्तर पर टेक्नोलॉजी प्राप्त करने पर विचार किया जाए । मुख्यमंत्री जी ने कहा कि कोरोना संक्रमण की प्रत्येक चेन को तोड़ना है । मेडिकल इन्फेक्शन को रोकने के लिए सभी स्वास्थ्य कर्मियों को प्रशिक्षित किया  जाए । उन्होंने बायो - मेडिकल वेस्ट का उचित निस्तारण सुनिश्चित करने के निर्देश भी दिये । उन्होंने कहा कि जनपद स्तर पर मुख्य चिकित्सा अधिकारी नर्सिंग होम के संचालकों तथा अन्य डॉक्टरों के साथ बैठक करते हुए टेलीमेडिसिन के माध्यम से चिकित्सीय परामर्श उपलब्ध कराने वाले डॉक्टरों की व्यवस्था करें । उन्होंने निर्देश दिये कि दूरभाष पर मरीजों को परामर्श देने वाले डॉक्टरों की सूची का व्यापक प्रचार - प्रसार कराया जाए । मुख्यमंत्री जी ने कहा कि वर्तमान समय में बड़ी मात्रा में भूसा उपलब्ध रहता है । इसके दृष्टिगत निराश्रित गोवंश के लिए गोवंश आश्रय स्थलों पर भूसा बैंक स्थापित किया जाए । 3 मई , 2020 के पश्चात औद्योगिक इकाइयों को किस प्रकार शुरु किया जाए , इसके लिए एक कार्य योजना तैयार की जाए । प्रवासी श्रमिकों को रोजगार देने की कार्य योजना बनायी जाए । उन्होंने कहा कि निराश्रित व्यक्ति की मृत्यु होने पर शासन द्वारा अनुमन्य राशि से दिवंगत का अन्तिम संस्कार कराया जाए । इस अवसर पर चिकित्सा शिक्षा मंत्री श्री सुरेश खन्ना , स्वास्थ्य मंत्री श्री जय प्रताप सिंह , मुख्य सचिव श्री आर0के0 तिवारी , कृषि उत्पादन आयुक्त श्री आलोक सिन्हा , अवस्थापना एवं औद्योगिक विकास आयुक्त श्री आलोक टण्डन , अपर मुख्य सचिव सूचना एवं गृह श्री अवनीश कुमार अवस्थी , अपर मुख्य सचिव राजस्व श्रीमती रेणुका कुमार , अपर मुख्य सचिव वित्त श्री संजीव मित्तल , पुलिस महानिदेशक श्री हितेश सी0 अवस्थी , प्रमुख सचिव चिकित्सा शिक्षा डॉ0 रजनीश दुबे , प्रमुख सचिव स्वास्थ्य श्री अमित मोहन प्रसाद , प्रमुख सचिव मुख्यमंत्री श्री एस0पी0 गोयल एवं श्री संजय प्रसाद , प्रमुख सचिव एम०एस०एम0ई0 श्री नवनीत सहगल , प्रमुख सचिव ग्राम्य विकास एवं पंचायतीराज श्री मनोज कुमार सिंह , प्रमुख सचिव खाद एवं रसद श्रीमती निवेदिता शुक्ला वर्मा , प्रमुख सचिव कृषि डॉ0 देवेश चतुर्वेदी , प्रमुख सचिव पशुपालन श्री भुवनेश कुमार , सचिव मुख्यमंत्री श्री आलोक कुमार , सूचना निदेशक श्री शिशिर सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे ।         



Uttar Pradesh Chief Minister Yogi instructed to strictly follow the lockdown to break every chain of corona infection: Chief Minister, District Magistrate, and Chief Medical Officer L-1. Inspect L-2 and L-3 Covid Hospitals, Shelter Home, and Quarantine Center. Samples should be provided for training as per protocol. The action plan should be prepared for the activities to be allowed in the Green Zone and Orange Zone, District Varanasi, Hapur. , Senior Administrative, Police, and Health Officers should be sent to Rampur, Muzaffarnagar, and Aligarh in each district from 16, 000 to 25, 000 Quarantine centers of dignity and arrangements for shelter sites should be ensured, women self-help groups should be linked to the construction of masks, etc. Competitive students being sent back from Prayagraj, health tests should be done for destitute cow husks at husk banks. To be set up to acquire technology globally with a view to increasing testing capacity To consider how to start the industrial units after May 3, 2020, the instructions for ensuring proper disposal of bio-medical waste should be formulated for action plan Lucknow: April 28, 2020, Uttar Pradesh Chief Minister Yogi Adityanath Ji Has given instructions to strictly follow the lockdown. He has said that special attention should be paid to social distancing. Patrolling should be done regularly by the police. It should also be ensured that only health, sanitation, and home delivery personnel are allowed in hotspot areas. All houses in the hotspot areas should be sanitized. The Chief Minister was reviewing the lockdown system at a high-level meeting convened at Lok Bhawan here today. He said that health tests should be conducted for competitive students being sent back from Prayagraj. Senior administrative, police, and health officers should be sent to the districts of Varanasi, Hapur, Rampur, Muzaffarnagar, and Aligarh. He said that an action plan should be prepared for the activities to be allowed in the Green Zone and Orange Zone. Women's self-help groups should be associated with the construction of masks etc. Marya Chief Minister directed that in each district, quarantine centers of 15,000 to 25, 000 capacity and arrangements for shelter should be ensured. Those who complete the 14-day institutional quarantine in the shelter home should be sent to a home for home quarantine after medical examination. Pool testing and random testing should be used for medical testing. District Magistrate and Chief Medical Officer L-1, L-2, and L-3 should inspect Covid hospitals, shelter homes, and quarantine centers. Food lodging arrangements of Shelter Home and Quarantine Center should be monitored. He said that the shelter home should be tagged live. The Chief Minister said that smooth arrangements of oxygen should be ensured in L-1, L-2 hospitals. The number of Covid hospitals of the L - 1 category should be increased. Beds should be increased in L-3 Covid hospitals. Ensure smooth availability of PPE kits and N-95 masks in all hospitals. Plasma therapy should be promoted for the treatment of patients with Covid-19. Testing capacity should be increased. Pool testing should be provided in all testing labs. Samples should be provided with training as per protocol. With a view to increase testing capacity, technology should be considered globally. The Chief Minister said that every chain of corona infection has to be broken. All health workers trained to prevent medical infection  Go He also directed to ensure proper disposal of bio-medical waste. He said that at the district level, the Chief Medical Officer, after meeting with the nursing home operators and other doctors, should arrange for doctors providing medical counseling through telemedicine. He directed that the list of doctors giving advice to patients on the telephone should be widely publicized. Chief Minister said that in the present time large quantity of straw remains available. In view of this, a straw bank should be set up at the bovine shelter sites for the destitute cows. An action plan should be prepared for how to start industrial units after May 3, 2020. An action plan should be chalked out to provide employment to migrant workers. He said that on the death of a destitute person, the last rites of the deceased should be performed by the government with a permissible amount. On this occasion, Medical Education Minister Mr. Suresh Khanna, Health Minister Mr. Jai Pratap Singh, Chief Secretary Mr. RK Tiwari, Agriculture Production Commissioner Mr. Alok Sinha, Infrastructure and Industrial Development Commissioner Mr. Alok Tandon, Additional Chief Secretary Information and Home Mr. Avnish Kumar Awasthi, Additional Chief Secretary Revenue Mrs. Renuka Kumar, Additional Chief Secretary Finance Mr. Sanjeev Mittal, Director General of Police Mr. Hitesh S 0 Awasthi, Principal Secretary Medical Education Dr. Rajneesh Dubey, Principal Secretary Health Mr. Amit Mohan Prasad, Principal Secretary Chief Minister Mr. SP Goel and Mr. Sanjay Prasad, Principal Secretary MSME Mr. Navneet Sehgal, Principal Secretary Rural Development and Panchayati Raj Mr. Manoj Kumar Singh, Principal Secretary Fertilizer and Logistics Smt Nivedita Shukla Verma, Principal Secretary Agriculture Dr. Devesh Chaturvedi, Principal Secretary Animal Husbandry MR Bhuvnesh Kumar, Chief Secretary Alok Kumar, Director Information other senior officials, including Mr. Shishir.





कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

Post Top Ad

Pages