Breaking News

रविवार, 19 अप्रैल 2020

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी अपने आवास पर टीम-11 के साथ लाॅक डाउन की समीक्षा बैठक Uttar Pradesh Chief Minister Yogi Adityanath Ji with his team-11 lock-down review meeting

 उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी अपने आवास पर टीम-11 के साथ लाॅक डाउन की समीक्षा बैठक    Uttar Pradesh Chief Minister Yogi Adityanath Ji with his team-11 lock-down review meeting      https://www.upviral24.in/2020/04/UttarPradeshChiefMinisterYogiAdityanathJiwithhisteam-11lock-downreviewmeeting.html       उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी अपने आवास पर टीम-11 के साथ लाॅक डाउन की समीक्षा बैठक    Uttar Pradesh Chief Minister Yogi Adityanath Ji with his team-11 lock-down review meeting      संवाददाता, Journalist Anil Prabhakar.                 www.upviral24.in

 मुख्यमंत्री की टीम - 11 के साथ लॉक डाउन समीक्षा बैठक
 मुख्यमंत्री ने देश के विभिन्न राज्यों से प्रदेश वापस पहुंचे श्रमिकों को स्थानीय स्तर पर रोजगार उपलब्ध कराने के उद्देश्य से एक समिति गठित करने के निर्देश दिए
 समिति ओ0डी0ओ0पी के तहत रोजगार सृजन के साथ - साथ बैंक के माध्यम से लोन मेले आयोजित करना सुनिश्चित करेगी रोजगार के अधिक से अधिक अवसर सृजित करने के उददेश्य से भारत सरकार ने रिवॉल्विंग फण्ड में जो बढ़ोत्तरी की है , उससे महिला स्वयंसेवी समूहों की विभिन्न गतिविधियों को बढ़ावा देते हुए रोजगार सृजित किया जाए महिलाओं द्वारा निर्मित सामग्रियों की मार्केटिंग ओ0डी0ओ0पी0 के माध्यम से की जाए : मुख्यमंत्री प्रत्येक जनपद में पुष्टाहार पहुंच चुका है , अतः बच्चों , किशोरियों , कन्याओं , गर्भवती माताओं के लिए इसकी डोर स्टेप डिलीवरी सुनिश्चित की जाए 20 अप्रैल , 2020 से प्रदेश में उद्योगों को सशर्त शुरू करने के सम्बन्ध में स्थानीय जिला प्रशासन उद्योग चलाने की ठोस कार्ययोजना बनाए : मुख्यमंत्री कोरोना संदिग्धों की टेस्टिंग अनिवार्य रूप से कराने के निर्देश कोरोना संदिग्धों के लिए शेल्टर होम तैयार स्थिति में रखने के निर्देश बाहर से आने वालों को हर हाल में क्वारंटीन किया जाए : मुख्यमंत्री समी शेल्टर होम नियमित रूप से सैनिटाइज़ किये जाएं और कम्युनिटी किचन का संचालन पूरी सावधानी से किया जाए लखनऊ : 19 अप्रैल , 2020 उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने पिछले 45 दिनों में देश के विभिन्न राज्यों से प्रदेश वापस पहुंचे लगभग 05 लाख श्रमिकों को स्थानीय स्तर पर रोजगार उपलब्ध कराने के उद्देश्य से एक समिति गठित करने के निर्देश दिए हैं । यह समिति इन श्रमिकों को स्थानीय स्तर पर रोजगार के अवसर उपलब्ध कराने की दिशा में कार्य करेगी , जिससे ग्रामीण अर्थव्यवस्था मजबूत होगी ।
मुख्यमंत्री जी ने यह निर्देश आज यहां अपने सरकारी आवास पर टीम - 11 के साथ लॉक डाउन समीक्षा बैठक के दौरान दिए । कृषि उत्पादन आयुक्त की अध्यक्षता में गठित इस समिति में प्रमुख सचिव ग्राम्य विकास , प्रमुख सचिव पंचायती राज , प्रमुख सचिव एम०एस०एम०ई० तथा प्रमुख सचिव कौशल विकास शामिल हैं । यह समिति ओ0डी0ओ0पी0 के तहत रोजगार सृजन के साथ - साथ बैंक के माध्यम से लोन मेले आयोजित करना सुनिश्चित करेगी । इसके अलावा रोजगार मेलों का भी आयोजन किया जाएगा ताकि लोगों को अधिक से अधिक रोजगार के अवसर उपलब्ध कराये जा सकें । यह समिति रोजगार के ज्यादा अवसर कैसे सृजित किए जाएं इस पर भी अपने सुझाव देगी । समिति एम०एस०एम०ई० के तहत विभिन्न उद्योगों में रोजगार के अवसर सृजित करने की सम्भावनाएं भी तलाशेगी । मुख्यमंत्री जी ने कहा कि रोजगार के अधिक से अधिक अवसर सृजित करने के उद्देश्य से भारत सरकार ने रिवॉल्विंग फण्ड में जो बढ़ोत्तरी की है , उससे महिला स्वयंसेवी समूहों को विभिन्न गतिविधियों जैसे सिलाई , अचार , मसाला बनाना इत्यादि के तहत रोजगार उपलब्ध कराया जाए । महिलाओं द्वारा निर्मित सामग्रियों की मार्केटिंग ओ0डी0ओ0पी0 के माध्यम से की जाए । उन्होंने कहा कि प्रत्येक जनपद में पुष्टाहार पहुंच चुका है । अतः बच्चों , किशोरियों , कन्याओं , गर्भवती माताओं के लिए इसकी डोर स्टेप डिलीवरी सुनिश्चित की जाए । बैठक के दौरान मुख्यमंत्री जी ने कहा कि 20 अप्रैल , 2020 से प्रदेश में उद्योगों को सशर्त शुरू करने की अनुमति दी जाएगी । इस सम्बन्ध में आज शाम सभी जिलाधिकारियों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग कर आवश्यक दिशा निर्देश दिए जाएंगे । उन्होंने कहा कि इन शर्तों के अनुरूप स्थानीय प्रशासन उद्योग चलाने की ठोस कार्ययोजना बनाए ।
मुख्यमंत्री जी ने कहा कि कोरोना वायरस कोविड - 19 के कारण 25 मार्च से लागू लॉक डाउन के कारण ठेला . खोमचा . रेहड़ी आदि लगाने वालों , रिक्शा , ई रिक्शा चालक , पल्लेदार , रेलवे कुली , दिहाड़ी मजदूरों आदि के सामने रोजगार का संकट खड़ा हो गया है । राज्य सरकार इसके प्रति अत्यन्त संवेदनशील है और इन्हें हर सम्भव सहायता उपलब्ध कराने के प्रयास कर रही है । बैठक के दौरान मुख्यमंत्री जी ने प्रमुख सचिव स्वास्थ्य को निर्देश देते हुए कहा कि जिन क्षेत्रों में कोरोना के 10 से ज्यादा पॉजिटिव केस रिपोर्ट हुए हैं उन्हें अभी न खोला जाए । उन्होंने इस बात पर बल दिया कि सोशल डिस्टेंसिंग का कड़ाई से पालन किया जाए और जो जहां है वह वहीं रुके । उन्होंने कोरोना संदिग्धों की टेस्टिंग अनिवार्य रूप से कराने के भी निर्देश दिए । कोरोना के संक्रमण को हर हाल में फैलने से रोकना है , अतः प्रत्येक जनपद में कोरोना के इलाज में लगे डॉक्टरों , नों , पैरामेडिक्स तथा अन्य स्टाफ को पी०पी0ई0 . एन - 95 मास्क व अन्य मेडिकल उपकरण हर हाल में उपलब्ध कराए जाएं । उन्होंने कोरोना संदिग्धों के लिए शेल्टर होम तैयार स्थिति में रखने के निर्देश दिए । बाहर से आने वालों को हर हाल में क्वारंटीन किया जाए । इस सम्बन्ध में आवश्यक प्रोटोकॉल का पालन किया जाए । अन्य सभी लोग मुंह ढंकने के लिए मास्क , गमछे , दुपट्टे इत्यादि का प्रयोग करें । मुख्यमंत्री जी ने अस्पतालों में इमरजेंसी सेवाओं के सम्बन्ध में कहा कि यह सेवाएं उन्हीं अस्पतालों में चालू की जाएं जहां पी0पी0ई० किट्स , एन - 95 मास्क पर्याप्त मात्रा में मौजूद हों । इमरजेंसी में मौजूद डॉक्टरों , नौ और पैरामेडिकल स्टाफ को इस सम्बन्ध में आवश्यक प्रशिक्षण भी दिया जाए । मुख्यमंत्री जी ने अपर मुख्य सचिव राजस्व को निर्देश दिये कि सभी शेल्टर होम नियमित रूप से सैनिटाइज़ किये जाएं । कम्युनिटी किचन का संचालन पूरी सावधानी से किया जाए । क्वॉरेन्टीन पूरा कर चुके लोगों को वापस  भेज दिया जाए । उन्होंने प्रशासन की देखरेख में ही भोजन वितरित करने के निर्देश दिये । मुख्यमंत्री जी ने कहा कि पशुओं के लिए चारे की पर्याप्त व्यवस्था सुनिश्चित की जाए । उन्होंने कहा कि प्रत्येक सरकारी / अन्य धर्मार्थ संस्थाओं द्वारा संचालित गौशालाओं में पर्याप्त मात्रा में भूसे और चारे की व्यवस्था सुनिश्चित की जाए । इस अवसर पर मुख्य सचिव श्री आर0के0 तिवारी , कृषि उत्पादन आयुक्त श्री आलोक सिन्हा , अवस्थापना एवं औद्योगिक विकास आयुक्त श्री आलोक टण्डन , अपर मुख्य सचिव सूचना एवं गृह श्री अवनीश कुमार अवस्थी , अपर मुख्य सचिव वित्त श्री संजीव कुमार मित्तल , अपर मुख्य सचिव राजस्व श्रीमती रेणुका कुमार , पुलिस महानिदेशक श्री हितेश सी0 अवस्थी , प्रमुख सचिव चिकित्सा शिक्षा डॉ रजनीश दुबे , प्रमुख सचिव स्वास्थ्य श्री अमित मोहन प्रसाद , प्रमुख सचिव मुख्यमंत्री श्री एस0पी0 गोयल एवं श्री संजय प्रसाद , सूचना निदेशक श्री शिशिर सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे । 

Chief Minister's Team - Lockdown Review Meeting with 11
 The Chief Minister directed to set up a committee with the aim of providing employment at the local level to the workers who returned to the state from various states of the country
 The committee will ensure employment generation under the ODOP as well as organizing loan fairs through the bank. With the objective of creating more employment opportunities in the revolving fund by the Government of India, various activities of women volunteer groups have been enhanced. Employment should be created by promoting, marketing of goods manufactured by women should be done through ODOP: Home The minister has reached a confirmation in every district, so its doorstep delivery should be ensured for children, adolescents, girls, expectant mothers, and a concrete action plan to run the local district administration industry in connection with the conditional start of industries in the state from April 20, 2020. Created: Instructions for compulsory testing of Chief Minister's Corona suspects Shelves for Corona suspects Instructions to keep the house in a ready condition should be quarantined to those coming from outside: Chief Minister Sami Shelter Homes should be regularly sanitized and community kitchens should be conducted with utmost care Lucknow: April 19, 2020 Uttar Pradesh Chief Minister Yogi Adityanath Ji, in the last 45 days, about 05 lakh workers who came back from different states of the country to get employment locally A committee for the purpose of providing Bd are instructed to set up. This committee will work towards providing local employment opportunities to these workers, which will strengthen the rural economy.
The Chief Minister gave these instructions during a lock-down review meeting with team-11 at his official residence here today. The committee constituted under the chairmanship of Commissioner of Agricultural Production, Principal Secretary Rural Development, Principal Secretary Panchayati Raj, Principal Secretary MSME, and Principal Secretary Kaushal Vikas. This committee will ensure employment generation under ODOP as well as organize loan fair through the bank. Apart from this, employment fairs will also be organized so that maximum employment opportunities can be made available to the people. This committee will also give its suggestions on how to create more employment opportunities. The committee will also explore possibilities of creating employment opportunities in various industries under MSME. The Chief Minister said that with the aim of creating more employment opportunities, the Government of India has increased the revolving fund to provide employment to women volunteer groups under various activities like sewing, pickle, spice making, etc. The marketing of materials manufactured by women should be done through ODOP. He said that in every district, the nutrition has reached. Therefore, doorstep delivery should be ensured for children, adolescents, girls, expectant mothers. During the meeting, the Chief Minister said that from April 20, 2020, industries in the state will be allowed to start conditionally. In this regard, necessary guidelines will be given by video conferencing with all the district magistrates this evening. He said that according to these conditions, local administration should formulate a concrete action plan to run the industry.
Chief Minister said that due to the lock-down implemented from 25 March due to Coronavirus covid-19. Khumcha Employment crisis has arisen in front of street vendors, rickshaws, e-rickshaw drivers, pullers, railway porter, daily laborers, etc. The state government is very sensitive to this and is making all possible efforts to provide them. During the meeting, the Chief Minister instructed the Principal Secretary Health that the areas where there are more than 10 positive case reports of Corona should not be opened yet. He emphasized that social distancing should be strictly followed and that what is there should be stayed there. He also instructed for compulsory testing of Corona suspects. The infection of the corona has to be prevented from spreading, so the doctors, doctors, paramedics and other staff engaged in the treatment of corona in each district should receive PPE. En-95 masks and other medical equipment should be provided in every condition. He instructed us to keep the shelter home in ready condition for the Corona suspects. Those coming from outside should be quarantined. Necessary protocols should be followed in this regard. All other people use masks, skins, dupattas, etc. to cover their mouths. In connection with emergency services in hospitals, the Chief Minister said that these services should be started only in those hospitals where PPE kits, N-95 masks are present in sufficient quantity. Necessary training in this regard should also be given to the doctors, nine and paramedical staff present in the emergency. The Chief Minister directed the Additional Chief Secretary Revenue that all the shelter homes should be sanitized regularly. Community kitchens should be handled with utmost care. Those who have completed Quarantine be sent back. He instructed to distribute food under the supervision of the administration. The Chief Minister said that adequate arrangements for fodder for animals should be ensured. He said that an adequate quantity of straw and fodder should be ensured in the gaushalas run by every government / other charitable institution. On this occasion, Chief Secretary Mr. RK Tiwari, Agriculture Production Commissioner Mr. Alok Sinha, Infrastructure and Industrial Development Commissioner Mr. Alok Tandon, Additional Chief Secretary Information and Home Mr. Avnish Kumar Awasthi, Additional Chief Secretary Finance Mr. Sanjeev Kumar Mittal, Additional Chief Secretary Revenue Smt. Renuka Kumar, Director General of Police, Mr. Hitesh C. Awasthi, Principal Secretary Medical Education Dr. Rajneesh Dubey, Principal Secretary Health Mr. Amit Mohan Prasad, Principal Secretary to Chief Minister Sp  Goyal and Mr. Sanjay Prasad, Information Director, other senior officials, including Mr. Shishir.





कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

Post Top Ad

Pages