Breaking News

शुक्रवार, 6 मार्च 2020

तेज हवा के साथ अचानक ओलावृष्टि होने से क्षेत्रीय किसानों में आश्चर्य व्याप्त Sudden hail along with strong wind has surprised the regional farmers


जगम्मनपुर ,जालौन । पंचनद क्षेत्र में कभी ओलावृष्टि न होने का मिथक आज टूट गया।देर शाम तेज हवा के साथ अचानक ओलावृष्टि होने से क्षेत्रीय किसानों में आश्चर्य व्याप्त है । ज्ञात हो कि जनपद के पंचनद तीर्थ क्षेत्र में रवि एवं खरीफ की फसल के दौरान कभी ओलावृष्टि नहीं हुई । मान्यता है कि जितने ग्रामो से पंचनद स्थित श्री बाबा साहब मंदिर पर कृषि उपज का अंश दान में जाता है वहां ओलावृष्टि नहीं होती और यह मान्यता प्रमाणित भी थी । यहां कभी किसी ने ओलावृष्टि होते नहीं देखी । बड़े बुजुर्गों से पूछने पर उन्होंने बताया कि यहां कभी ओलावृष्टि नहीं हुई किंतु आज शुक्रवार की शाम अचानक तेज हवाओं के साथ ओलावृष्टि होने से क्षेत्रीय लोगों में अफरा-तफरी मच गई और वह अपनी फसल की रक्षा के लिए ईश्वर से प्रार्थना करते दिखे , लगभग 5 मिनट तक हुई ओलावृष्टि से बहुत अधिक नुकसान तो नहीं किंतु 20 से 30% तक फसल के नुकसान होने का अनुमान लगाया जा रहा है।

पंचनदा से विजय द्विवेदी की रिपोर्ट

Jagammanpur, Jalaun. The myth of never having hailstorms in Panchanad region broke today. Surprising hailstorms with strong wind late in the evening have surprised the regional farmers. It is to be known that hailstorms never occurred during the Ravi and Kharif crops in the Panchanad pilgrimage area of ​​the district. It is believed that the number of villages from which part of the agricultural produce goes to the Baba Saheb temple in Panchanad, there is no hailstorm and this recognition was also certified. No one has seen hail storms here. On asking the elders, he said that there was never a hailstorm here but due to the sudden hail storms on Friday evening there was panic among the regional people and he was seen praying to God to protect his crop, about 5 There is not much loss due to minute hail, but crop loss is estimated to be 20 to 30%.

Report of Vijay Dwivedi from Panchanada

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

Post Top Ad

Pages