Breaking News

मंगलवार, 18 फ़रवरी 2020

जनपद जालौन मैं फर्जी पत्रकार बनाने बाला अपने को मसीहा बताने वाला फर्जी पत्रकार(नवजीत सरदार) नटवरलाल महोबा पुलिस की गिरफ्त में Fake journalist (Navjeet Sardar) Natwarlal Mahoba arrested by the police for making a fake journalist in Jalaun district

उरई/जालौन मैं एक  फ़र्ज़ी पत्रकार 

जनपद जालौन मैं फर्जी पत्रकार बनाने बाला अपने को मसीहा बताने वाला फर्जी पत्रकार(नवजीत सरदार) नटवरलाल महोबा पुलिस की गिरफ्त में

मुख्यालय उरई शहर में मुख्य चौराहा(मच्छर चौराहा) पर एक गली में चलता था फर्जी पत्रकार बनाने के गोरखधंदे का  ऑफिस।।

यह नटवरलाल फर्जी तरीके से बड़े से बड़े चैनल से  अपने सम्पर्क बता ऑफिस से ही बेचता था माइक आई डी और लोगों को अपना शिकार बना लूटता था मोटी मोटी रकम।

पहले भी ये और इसका एक साथी नटवरलाल कई लोगों को अपना शिकार बना चपत लगा चुके है ठगी में काफी मशहूर है ये जोड़ी कल शाम लगभग 5 बजे यह  फर्जी पत्रकासर बनासने बाला चढ़ा महोबा पुलिस के हत्थे। यह नटवरलाल अपने ऑफिस में बैठकर फोन के जरिए भी लोगों को डरा धमका कर और सीक्रेट वीडियो बना करता था ब्लैकमेलिंग का काम। ठग के ऊपर महोबा कोतवाली में हुई आइ टी एक्ट में 09/02/20 को हुई एफ आई आर दर्ज। अब देखना यह है कि क्या पुलिस इस 420 कि कुंडली खगाल पाती हैं या नही फ़िलहाल इस ठग मण्डली का फर्जी खेल समाप्त हुआ

पहले भी बालु घाट पर हो चुकी है कुटाई
गुटका माफ़िया जुआ वाले रहते थे निशाने पर

सूत्रों की माने तो साथी हेलमेट वाला पत्रकार   भी रहता षड्यंत्र में शामिल जिसकी कोर्ट परिसर में पिटाई का विडीयो ख़ूब वायरल हुआ था


Orai / Jalaun a fake journalist
Fake journalist (Navjeet Sardar) Natwarlal Mahoba arrested by the police for making a fake journalist in Jalaun district
Headquarters in Orai city used to walk in a street at the main square (mosquito intersection), the office of gorakhande to create fake journalist.
This Natwarlal used to fake his contacts with the biggest channels from his own office and sell them only through Mike ID and used to rob people of huge amount of money.
In the past, this and its partner Natwarlal have made many people their victims, this duo is very famous in the cheating. This Natwarlal used to sit in his office, intimidating people through phone and making secret videos and blackmailing. FIR registered on 09/02/20 in IT Act held in Mahoba Kotwali over the thugs. Now it remains to be seen whether the police find this 420 Kundali Khagal or not, the fake game of this thug congregation is over.
Even before the sand ghat has been harvested
Gutka mafia gamblers were targeted
If sources are to be believed, the fellow helmet journalist was also involved in the conspiracy whose video of the beating in the court premises was viral.

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

Post Top Ad

Pages